नई दिल्ली. सरकारी क्षेत्र के भारतीय स्टेट बैंक (SBI)  कोविड-19 संकट में छोटे कारोबारियों के लिए 59 मिनट में 10 हजार रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक के लोन दे रहा है. देश के सबसे बड़े बैंक की तरफ से यह लोन छोटे कारोबारियों को केंद्र सरकार की मुद्रा लोन स्कीम (Mudra Loan Scheme) के तहत दिया जा रहा है ताकि वो संकट की स्थिति में वित्तीय परेशानियों को खत्म कर सकें और अपने करोबार को बढ़ा सकें. इसी क्रम में एसबीआई ने ट्विटर हैंडल से बताया कि मुद्रा लोन आसानी से घर बैठे प्राप्त किया जा सकता है. एसबअीाई ने इसके लिए वेबसाइट के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि कुछ जानकारी देने के बाद ही 59 मिनट में 10 लाख रुपये तक का लोन लिया जा सकता है.

केंद्र सरकार की महत्‍वाकांक्षी मुद्रा स्‍कीम के तहत छोटे-मोटे बिजनेस और रेहड़ी-पटरी पर कारोबार करने वालों या अन्य तरह के छोटे व्यवसाय करने वाले लोगों को आसान शर्तों पर लोन दिया जाता है. इस योजना के तहत चाय या स्‍नैक्‍स की दुकान खोलने, फल और अन्‍य खाद्य सामग्रियों की दुकान खोलने के लिए 10 लाख रुपए तक का बैंक लोन दिया जाता है. मुद्रा स्‍कीम के तहत मिलने वाले इस लोन को तीन कैटेगरी में बांटा गया है. एसबीआई की वेबसाइट के मुताबिक इसके लिए ब्याज दर 8.5 फीसदी से शुरू होती है.

क्या है मुद्रा लोन

मुद्रा योजना – माइक्रो यूनिट्स डेवलपमेंट एंड रिफाइनेंस एजेंसी (MUDRA) से बना है. इसका मुख्य उद्देश्य छोटे और कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देना है. प्रधानमंत्री मोदी ने इसकी शुरुआत करते हुए कहा था कि स्‍वरोजगार में जुटे 5 करोड़ 75 लाख लोगों पर ध्‍यान देने की जरूरत है, जो मात्र 17,000 रुपये प्रति इकाई कर्ज के साथ 11 लाख करोड़ की राशि का इस्‍तेमाल करते हैं और 12 करोड़ भारतीयों को रोजगार उपलब्‍ध कराते हैं.

इन डॉक्युमेंट्स की होगी जरूरत

कोई भी भारतीय नागरिक मुद्रा लोन के लिए आवेदन कर सकता है. हालांकि मुद्रा योजना में महिलाओं और एससी/एसटी आवेदकों को लोन के लिए प्राथमिकता दी जाती है. एसबीआई से मुद्रा लोन लेने के लिए पहचान पत्र, निवास प्रमाण, बैंक स्टेटमेंट, फोटोग्राफ, बिक्री दस्तावेज, प्राइस कोटेशन्स बिज़नसID और पता प्रमाण पत्र की जरूर होती है. इसके अलावा जीएसटी आइडेंटिफिकेशन नंबर, इनकम टैक्स रिटर्न की भी जानकारी देनी होगी. एसबीआई की इस वेबसाइट पर जाकर आप मुद्रा लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं.