जम्मू में थोक दवा विक्रेताओं ने सरकार से कड़ाई से लॉकडाउन लगाने की अपील की है. दवा विक्रेताओं ने दलील दी है कि जम्मू में भी कोरोना अपने चरम पर हैं और इससे पहले की हालत बिगड़े सरकार को करीब 1 सप्ताह का लॉकडाउन लगा लेना चाहिए.

जम्मू में थोक दवा विक्रेताओं की संस्था जम्मू फार्मास्यूटिकल डिस्ट्रीब्यूटर एसोसिएशन ने सरकार से कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए 1 सप्ताह का लॉकडाउन लगाने की मांग की है.

‘कोरोन की चेन तोड़ना जरूरी है’

एसोसिएशन के प्रधान राकेश गुप्ता ने बताया कि जम्मू के पड़ोसी राज्यों में कोरोना तेजी से फैल रहा है और जम्मू भी इससे अछूता नहीं है. उन्होंने कहा कि पड़ोसी राज्यों में ऑक्सीजन, बेड और दवाइयों की भारी किल्लत हो रही है. हालांकि उन्होंने यह भी दावा किया कि जम्मू में हालात अभी इतने बिगड़े नहीं हैं लेकिन साथ ही उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि आने वाले दिनों में जम्मू में भी हालात पड़ोसी राज्यों जैसे ही होंगे.

राकेश गुप्ता ने कहा कि इससे पहले कि जम्मू में भी ऑक्सीजन, बेड और दवाइयों की किल्लत हो कोरोना की चेन को तोड़ना जरूरी है, जिसके लिए लॉकडाउन ही एक विकल्प है. एसोसिएशन ने यह भी फैसला लिया है कि करोना से बचाव के लिए जरूरी दवाएं केंद्र सरकार सीधा यहां के अस्पतालों में भेजें ताकि इन दवाइयों की कालाबाजारी को रोका जा सके.