इस बार के चुनाव में देखा जाए तो नितीश कुमार और उनके समर्थक को इस बार मिडिल क्लास के लोगो के तरफ से भी निराशा हाथ लगने वाली है। अगर अनुमान लगाया जाए तो इस बार देखा जाए तो मिडिल क्लास परिवारों के 43 फीसदी वोट तेजस्वी और उनके सहयोगी को गए है।
2020 के बिहार के विधानसभा के चुनाव 7 नवंबर को ख़तम हो गए है और अब 10 नवंबर को परिणाम सामने आएगा। सभी राजनैतिक दलों की किस्मत ईवीएम मशीन मै बंद है। चुनाव खत्म होने के साथ ही इंडिया टुडे एक्सिस माय इंडिया के एग्जिट पोल के अनुसार नीतीश कुमार की विदाई इस बार तय है। वही दूसरी तरफ महागठबंधन को बिहार की कमान मिलना मुमकिन है।
एग्जिट पोल के आंकड़े ये साबित करते है की गरीबी रेखाओ से निचे वाले परिवारों ने इस बार नितीश कुमार पे ज्यादा भरोसा नहीं दिखाया है। वही दूसरी तरफ मिडिल क्लास वाले परिवारों ने महागठबंधन पे ज्यादा भरोसा किया और एग्जिट पोल की माने तो मिडिल क्लास से 43 फीसदी वोट इस बार महागठबंधन को जाते देख रहे है। वहीं 39 प्रतिशत ऐसे वोट राजग को मिले हैं। एलजेपी के खाते में बीपीएल वोट सात फीसदी ही जाने के आसार हैं।