• धोनी ने 15 अगस्त 2020 को इंस्टाग्राम पर शाम 7:29 मिनट पर इंडियन क्रिकेट टीम से संन्यास की घोषणा की
  • 9 जुलाई 2019 को न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए वर्ल्डकप सेमीफाइनल के अपने आखिरी मैच में धोनी ने 50 रन बनाए थे
    धोनी ने संन्यास ले लिया। इंटरनेशनल क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट से। अब माही मैदान पर टीम इंडिया की ब्लू ब्रिगेड का हिस्सा नहीं हाेंगे। क्रिकेट के हर फैन को धोनी के रिटायरमेंट की खबर ने दुखी कर दिया है। इन सबके बीच क्रिकेट की बड़ी प्रशंसक माने जाने वालीं स्वरकोकिला यानि लता मंगेशकर के रिएक्शन का हर किसी को इंतजार है। क्योंकि ठीक साल भर पहले लताजी ने धोनी से रिटायरमेंट न लेने की अपील की थी।

    लताजी ने कहा था- कृपया ऐसा मत सोचिए

    11 जुलाई 2019 को किए इस ट्वीट में लता जी ने लिखा था- नमस्कार, एमएस धोनी जी। आजकल मैं सुन रही हूं कि आप रिटायर होना चाहते हैं। कृपया ऐसा मत सोचिए। देश को आपके खेल की जरूरत है। और ये मेरी भी रिक्वेस्ट है कि रिटायरमेंट का विचार भी आप मन में मत लाईए। उस वक्त लताजी की यह रिक्वेस्ट धोनी तक पहुंच गई थी और उन्होंने संन्यास का ऐलान नहीं किया था।
    साल भर पहले से चर्चाएं हुई थीं शुरू
    पिछले 6 महीनों से भारतीय क्रिकेट टीम को कोई भी मैच नहीं हुआ है और धोनी की टीम इंडिया में वापसी को लेकर भी कई बार बहस होती रही है। ऐसे में उन्होंने रिटायरमेंट का फैसला लेकर फिर हैरान कर दिया। दरअसल 2019 के वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड से मिली हार के बाद से ही धोनी के संन्यास की खबरें आ रही थीं। जिस पर लताजी ने यह रिएक्शन दिया था।