कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संकट को देखते हुए पश्चिम बंगाल में जारी विधान सभा चुनाव (West Bengal Assembly Election) के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) 23 अप्रैल को वर्चुअल रैलियों को संबोधित करेंगे.

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संकट को देखते हुए पश्चिम बंगाल में जारी विधान सभा चुनाव (West Bengal Assembly Election) को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की रैलियों के स्वरूप में बदलाव किया जाएगा. बिहार की तर्ज पर पीएम मोदी 23 अप्रैल को बंगाल में वर्चुअल रैलियों को संबोधित करेंगे.

हर विधान सभा में लगाई जाएंगी बड़ी-बड़ी स्क्रीन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की बंगाल में 23 अप्रैल को मालदा , मुर्शिदाबाद, सिवली और दक्षिण कोलकाता में 4 रैलियां होनी है. अब रैली में पूरे जिले के लोगों को एक जगह आने की जरूरत नहीं होगी और हर विधान सभा में प्रधानमंत्री के भाषण को सुनने के लिए बड़े-बड़े स्क्रीन लगाए जाएंगे. इसके बाद रैली स्थल पर कम से कम लोग होंगे, जो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करेंगे.

ममता बनर्जी-राहुल ने भी किया रैली नहीं करने का ऐलान

इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने चुनाव प्रचार नहीं करने का फैसला किया था. ममता बनर्जी अब कोलकाता में प्रचार नहीं करेंगी. वह प्रतीकात्मक तौर पर शहर में चुनाव प्रचार के आखिरी दिन सिर्फ एक बैठक करेंगी. इसके साथ ही जहां पर पहले से चुनावी रैली का तारीख निर्धारित है, वहां पर समय को घटाकर सिर्फ 30 मिनट कर दिया गया है. राहुल गांधी ने भी पश्चिम बंगाल में होने वाली अपनी सभी चुनावी रैलियों को रद्द करने का फैसला किया था. इसके साथ ही कांग्रेस नेता ने सभी राजनेताओं से अपील करते हुए कहा था कि वह कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अपनी-अपनी चुनावी रैलियों को रद्द करने पर विचार करें.

22 अप्रैल को होगा छठे चरण का मतदान

बता दें कि पश्चिम बंगाल (West Bengal) की 294 विधान सभा सीटों पर 8 चरणों में वोटिंग होनी है, जिनमें से पांच चरणों के चुनाव संपन्न हो चुके हैं. राज्य में 27 मार्च को पहले चरण में 30 सीटों, एक अप्रैल को दूसरे चरण में 30 सीटों, 6 अप्रैल को तीसरे चरण में 31 सीटों, 10 अप्रैल को चौथे चरण में 44 सीटों और 17 अप्रैल को 45 सीटों पर वोटिंग हुई थी. छठे चरण में 22 अप्रैल को 43 सीटों और सातवें चरण में 26 अप्रैल 36 सीटों और आठवें चरण में मतदान होंगे, जबकि चुनाव परिणाम 2 मई को आएंगे.