दिल्ली में कोरोना वायरस (Coronavirus in Delhi) के रिकॉर्ड मामले सामने आने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने वीकेंड कर्फ्यू (Weekend Curfew) का का ऐलान किया है.

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस (Coronavirus in Delhi) के रिकॉर्ड मामले सामने आने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने वीकेंड कर्फ्यू (Weekend Curfew) का ऐलान किया है. वीकेंड लॉकडाउन की शुरुआत शुक्रवार रात 10 बजे से शुरू होगा और सोमवार सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा.

वीकेंड कर्फ्यू के दौरान क्या-क्या रहेगा बंद?

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने गुरुवार (15 अप्रैल) को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में वीकेंड कर्फ्यू लगाया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘मॉल, जिम, स्पा, ऑडिटोरियम को बंद करने के निर्देश दिए जा रहे हैं.’ उन्होंने बताया, ‘रेस्टोरेंट में अब बैठकर खाने की इजाजत नहीं होगी, केवल होम डिलीवरी की अनुमति होगी.’

वीकेंड कर्फ्यू में क्या-क्या खुला रहेगा?

अरविंद केजरीवाल ने ऐलान किया कि वीकेंड कर्फ्यू (Weekend Curfew) के दौरान जरूरी सेवाओं को खुला रखा जाएगा. इसके साथ ही जिनकी शादियों की तारीख तय है, उन्हें पास दिए जाएंगे. किसी को अस्पताल जाना है, एयरपोर्ट, बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन जाना है उन लोगों को वीकेंड कर्फ्यू के दौरान छूट रहेगी, लेकिन इसके लिए पास लेना होगा. इसके अलावा सिनेमा हॉल 30 फीसदी क्षमता पर चल सकते हैं.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने बताया कि एक साप्ताहिक बाजार को एक दिन में और एक जोन के हिसाब से अनुमति दी जाएगी. साप्ताहिक बाजार में ज्यादा भीड़ ना हो इसके लिए खास इंतजाम किए जा रहे हैं.

दिल्ली में 30 अप्रैल तक लागू हैं नाइट कर्फ्यू

दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली सरकार ने 6 अप्रैल को नाइट कर्फ्यू (Night Curfew in Delhi) लगा दिया था, जो 30 अप्रैल तक लागू रहेगा. नाइट कर्फ्यू रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक लागू रहेगा.

दिल्ली कोविड-19 से सबसे ज्यादा प्रभावित शहर

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली कोरोना वायरस से प्रभावित शहरों में सबसे ऊपर है. दिल्ली में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 17282 नए मामले सामने आए और संक्रमण की वजह से 104 लोगों की मौत हुई. स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि दिल्ली में अब तक संक्रमितों की कुल संख्या 7,67,438 हो गई है और 11540 मरीजों की मौत हो चुकी है. राजधानी में अब कोरोना वायरस संक्रमण के एक्टिव केस भी बढ़कर 50736 हो गए हैं। वहीं, अब तक कुल 705162 मरीज इस महामारी को मात देकर कोरोना मुक्त हो चुके हैं.