धर्मशाला, जेएनएन। हिमाचल प्रदेश के अधिकतर इलाकों में रात से भारी बारिश का दौर जारी है। भारी बारिश के कारण नदी-नाले उफान पर हैं तो सड़कों पर जलभराव हो गया है। इस कारण वाहन चालकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मौसम विभाग ने सोमवार व मंगलवार को ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। दो दिन जनजातीय जिला किन्नौर व लाहुल-स्पीति को छोड़कर प्रदेशभर में भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग के निदेशक डॉ. मनमोहन सिंह का कहना है कि दो दिन मानसून पूरी तरह से सक्रिय रहेगा।

शनिवार रात से रविवार दोपहर तक भी भारी बारिश हुई। मंडी जिला के जोगेंद्रनगर में चट्टानें गिरने पर आठ सड़कें बाधित हुईं। बारिश से लोक निर्माण विभाग को जोगेंद्रनगर में करीब आठ करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। उपमंडल की रोपा पद्धर पंचायत के मड़वाणा गांव में रविवार रात फिर पहाड़ी दरकी। गांव के सात परिवारों ने खौफ में रात काटी। कांगड़ा जिला की सिहुंणी पंचायत में बिजली गिरने से एक मकान में दरारें आ गई हैं।

वहीं, लाहुल-स्पीति में बाढ़ आने से बंद हुए मार्गों को बहाल कर दिया है। बीआरओ ने तांदी-संसारी मार्ग भी खोल दिया है। यहां बादल फटने से पटन घाटी के तीन नालों में, जबकि उदयपुर के पास कडु नाले में  बाढ़ आ गई थी। रविवार को कांगड़ा जिला के नूरपुर क्षेत्र में 102 मिलीमीटर बारिश हुई। वहीं, नगरोटा सूरियां व गगल में 62 मिलीमीटर बारिश हुई।

कहां कितना रहा तापमान (डिग्री सेल्सियस)

  • स्थान, न्यूनतम, अधिकतम
  • शिमला, 18.0, 26.2
  • सुंदरनगर, 23.8, 33.7
  • भुंतर, 23.1, 34.8
  • कल्पा, 15.5, 25.8
  • धर्मशाला, 18.4, 29.6
  • ऊना, 26.4, 37.0
  • नाहन, 25.5, 28.8
  • केलंग, 13.8, 28.6
  • सोलन, 23.6, 32.0
  • मनाली, 16.6, 23.4
  • कांगड़ा, 23.6, 31.2
  • मंडी, 24.0, 34.6
  • बिलासपुर, 22.0, 34.0
  • हमीरपुर, 22.3, 33.8
  • चंबा, 22.7, 31.7