74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर एक्ट्रेस वाणी कपूर ने दैनिक भास्कर के साथ इस खास दिन से जुड़ी अपनी बचपन की यादों को शेयर किया। उन्होंने बताया कि हमारी बचपन की यादें कुछ ऐसी हैं, जिन्हें हम हमेशा संजोकर रखते हैं। अपने दिलों के करीब रखते हैं। हमारे स्कूल के दिनों में भी इस शुभ अवसर पर ध्वजारोहण और उसके बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम होते थे।
वाणी ने कहा, ‘उन कार्यक्रमों की तैयारियों में हम आयोजन से एक हफ्ते पहले जुट जाते थे। प्रदर्शन के लिए खुद को तैयार करने के दौरान हम काफी एन्जॉय करते थे। हम मार्च-पास्ट, भाषण, नृत्य, खेल, सांस्कृतिक गतिविधियों और अन्य चीजों की तैयारियों के सिलसिले में अभ्यास करने के लिए लंच ब्रेक के बाद उसी में जुट जाते थे।’
उन्होंने कहा, ‘लॉकडाउन के कारण इस बार हम सभी घरों में बंद हैं। जाहिर तौर पर इस बार व्यावहारिक और भावनात्मक चुनौतियां हैं, जिनसे हमें बंद के दौरान जूझना पड़ा है। हालांकि इसने हमें उन चीजों के महत्व से अवगत कराया है जिन्‍हें हम बहुत कैजुअली लेते थे।’ ‘उदाहरण के लिए, मैं दोस्तों और परिवार के साथ अचानक वाली छुट्ट‍ियां प्‍लान करने से रह गई हूं। मैंने अपने माता-पिता को इतने लंबे समय तक नहीं देखा और मैं उन्हें बहुत मिस करती रही हूं।’
वाणी के मुताबिक ‘इस माहौल में हमें फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी सलामी देते हुए इस स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाना चाहिए। हम कोरोनोवायरस के साथ युद्ध में हैं और मैं सभी फ्रंटलाइन वर्कर्स- मेडिकल स्टाफ, पुलिस, सैनिटाइजेशन वर्कर्स और हर किसी को सलाम करती हूं जो हमारे लिए खुद को जोखिम में डाल रहे हैं।’