नेपोटिस्म ने अपनी जड़े एंटरटेनमेंट सेक्टर मे काफी मजबूती से फैला ली है. ताजा कड़ी मे विपिन प्रियंका प्रोडक्शन और एक्मे एंटरटेनमेंट द्वारा आयोजित होने वाले रियलिटी शो “यूपी का बिग बॉस कौन” को एंडेमोल इंडिया ने १७ पेज का एक लीगल नोटिस भेजा है, जिसके तहत उन्हें इस प्रोग्राम को न करने की हिदायत दी गयी है.

विपिन प्रियंका प्रोडक्शन के चेयरमैन डॉ विपिन अग्निहोत्री के मुताबिक उनके शो जिसका मुख्य उद्देस्य उत्तर प्रदेश की नयी प्रतिभाओ को मंच मुहैया कराना और उत्तर प्रदेश की सभ्यता और संस्कृति को दिखाना था, उसको केवल इसलिए बंद करवाने की कोशिश की जा रही है क्यूंकि उत्तर प्रदेश मे बैठा हुआ इंसान उन लोगो की मोनोपोली तोड़ने की कोशिश कर रहा जो अपने आप को ईश्वर मान बैठे है.

एक्मे एंटरटेनमेंट के राज मेहता ने बताया की लीगल नोटिस मे इस बात को उल्लेखित किया गया है की इस शो ने बिग बॉस की नक़ल की है पर सवाल ये है की जो शो अभी तक रिलीज़ ही नहीं हुआ, उस शो के बारे मे कोई कैसे तुक्का मार सकता है.

डॉ विपिन अग्निहोत्री और राज मेहता जो इस कांसेप्ट पर पिछले ६ महीने से काम कर रहे थे और इसकी प्रेस कांफ्रेंस कर चुके है, हताशा और निराशा भरे इस समय मे भी उम्मीद का दामन छोड़ने को तैयार नहीं है, दोनों को उम्मीद है की न केवल उन्हें उत्तर प्रदेश की जनता का सपोर्ट मिलेगा, साथ ही साथ उत्तर प्रदेश सरकार भी उनकी हर संभव मदद करेगी।

थिएटर एंड फिल्म वेलफेयर एसोसिएशन के सचिव दबीर सिद्दीकी ने बताया की उत्तर प्रदेश के कलाकारों के साथ हो रहे इस अन्याय का पुरजोर जवाब दिया जायेगा और पूरी कोशिश की जाएगी की इस शो पर इसका कोई प्रभाव न पड़े.