हाथरस गैंगरेप में पीड़िता के पिता और भाई सफदरजंग अस्पताल में धरने पर बैठ गए है पीड़िता के पिता और ने आरोप लगाया है की पहले हमारे अनुमति के बिना शव को अस्पताल से ले जाया गया और न ही हमें कोई पोस्टमार्टम रिपोर्ट दी गयी है परिवार का कहना है हमने किसी काजग पर हस्ताक्षर नहीं किये है हमारी अनुमति के बिना शव को कैसे ले जाया जा सकता है

पीड़िता के भाई ने बताया की पिता ने एम्बुलेंस की है एम्बुलेंस यमुना एक्सप्रेसवे को पार कर चुकी है पीड़िता के पिता ने एम्बुलेंस के वापस आने पर पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बारे में पूछा अगर यह नहीं सब नहीं होता है तो हाथरस में शव को कोई भी नहीं करेगा स्वीकार ।