उज्जैन। कोरोना संक्रमितों और कोरोना संदिग्धों की मृत्यु पर अस्पताल प्रशासन द्वारा मृतक के रहवासी क्षेत्र के पुलिस थाने को सूचना देने के साथ ही फायर ब्रिगेड को शव वाहन उपलब्ध कराने की सूचना दी जा रही है। फायर ब्रिगेड के कर्मचारी पीपीई किट पहनकर शवों को श्मशान तक पहुंचाते हैं, यहीं के एक कर्मचारी ने सुबह इतनी शराब पी ली कि वह पीपीई किट पहनकर फुटपाथ पर बेसुध होकर सो गया। साथी कर्मचारी ने उसकी किट फाड़ दी।

एक कर्मचारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि 12 घंटे की ड्यूटी में कोरोना संक्रमित और कोरोना संक्रमितों के इतने शवों को श्मशान पहुंचाते हैं कि मन भयभीत हो जाता है। इस कारण शराब का सेवन कर लेते हैं। कभी-कभी शराब का ज्यादा सेवन करने से ऐसी स्थिति बन जाती है। सुबह शव वाहन पर ड्यूटी के लिये कर्मचारी पहुंचा था जिसने पीपीई किट पहनी और फायर ब्रिगेड के सामने फुटपाथ पर बैठकर अत्यधिक शराब का सेवन कर लिया। बेसुध होने के बाद वह फुटपाथ पर ही सो गया। मीडिया को देखकर दूसरा कर्मचारी आया और उसने बेसुध कर्मचारी की पीपीई किट फाड़ दी।