बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की संदिग्ध मौत से संबंधित पटना में दर्ज एफआईआर पर जांच करने मुंबई गई बिहार पुलिस को मुंबई पुलिस से सहयोग नहीं मिलने के आरोप के बीच रविवार को बिहार पुलिस मुख्यालय ने एक बड़ा फैसला लिया है. जांच में तेजी लाने के लिए पटना से रविवार को भारतीय पुलिस सेवा के सीनियर अधिकारी विनय तिवारी को मुंबई भेजा गया है.

 

बिहार पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय ने बताया कि पटना नगर (पूर्वी) पुलिस अधीक्षक विनय तिवारी को मुंबई भेजा गया है. उन्होंने कहा कि फिलहाल एक अधिकारी को भेजा गया है और आगे अगर फिर जरूरत पडेगी तो अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी भेज जाएंगें.

 

इससे पहले बिहार से मुंबई गई चार सदस्यीय टीम को मुंबई पुलिस द्वारा मदद नहीं मिलने का आरोप लगाता रहा है. पुलिस मुख्यालय का कहना है कि कई मामलों में उन्हें मुंबई पुलिस से कोई सहयोग नहीं मिल रहा है, इसलिए पटना के नगर (पूर्वी) पुलिस अधीक्षक को मुंबई भेजा जा रहा है, जिससे सुशांत सुसाइड मामले में मुबंई में जांच कर रही बिहार पुलिस की टीम को कुछ मदद मिल सके.

 

शनिवार को पुलिस महानिदेशक पांडेय ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए खुलकर कहा था कि सुशांत मामले को लेकर बिहार पुलिस सच सामने लाएगी. उल्लेखनीय है कि पटना के रहने वाले सुशांत का शव उनके मुंबई के बांद्रा स्थित फ्लैट में 14 जून को मिला था. इसके बाद इस मामले की जांच मुबई पुलिस कर रही थी.

 

सुशांत के पिता के.के. सिंह ने उसकी मित्र रिया चक्रवर्ती, उनके परिवार के सदस्यों सहित और छह अन्य लोगों के खिलाफ उनके बेटे को कथित रूप से आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला 25 जुलाई को दर्ज कराया है. इस मामले की जांच के लिए बिहार पुलिस की एक टीम मुंबई में है.