अखिलेश यादव ने कहा – सरकार को किसान बिल तुरन्त वापस ले लेना चाहिए, कम से कम भारतीय जनता पार्टी को याद रखना चाहिए कि उन्होंने चुनाव के बाद कहा था की किसानो की आय दोगुनी करने की बात कही थी. मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) आज एक निजी कार्यक्रम में वाराणसी (Varanasi) पहुंचे. एयरपोर्ट पर पत्रकारों ने जब उनसे किसान आंदोलन (Farmers’ Movement) पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी पर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि सरकार को किसान बिल तुरन्त वापस ले लेना चाहिए. क्युकी किसानो की इससे बहुत बड़ी नुकसान हो रही है किसान बिना खाये पिए धरना प्रदर्शन कर रहे है ये बात बीजेपी वालो को समझनी चाहिए.

अखिलेश यादव ने कहा कि स्वामी विवेकानंद की जयंती आज पूरा देश माना रहा है. समाजवादी पार्टी की युवा विंग भी मना रही है. विवेकानंद जी ने रास्ता दिखाया था, उन्होंने धर्म की बात दुनिया तक पहुंचाई थी. यहां जरूरत है रोटी की, रोजगार की. आज जयंती के दिन सबसे बड़ा संकल्प यही होगा कि जो सरकार बने वह रोजगार दे. युवाओं को रोजगार कैसे मिले, इस दिशा में काम करना होगा. भारतीय जनता पार्टी से झूठी पार्टी कोई नहीं है. उनसे अच्छा झूठ कोई नहीं बोलता.