उत्तर प्रदेश के बागपत की रहने वाली वयोवृद्ध शूटर दादी चंद्रो तोमर का मेरठ के मेडिकल कालेज में इलाज के दौरान निधन हो गया. एक रात पहले ही उन्हें आनंद हॉस्पिटल से मेरठ के मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वयोवृद्ध शूटर दादी चंद्रो तोमर की मौत का कारन ब्रेन हेम्ब्रेज बताया जा रहा है. वे कोरोना वायरस से भी संक्रमित बताई गईं थीं.

शूटर दादी चंद्रो तोमर के बेटे विनोद तोमर का कहना है कि सोमवार को उन्हें सांस लेने में परेशानी हुई थी. उसके बाद उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉज़िटिव आई थी. इसके बाद उन्हें मेरठ के आनंद अस्पताल में भर्ती कराया गया. रात में हालत बिगड़ने पर उन्हें मेडिकल कॉलेज ले जाया गया था. चंद्रो तोमर के कोरोना पाजिटिव होने की खबर से उनके प्रशंसकों में मायूसी छा गई थी. प्रशंसक उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना कर रहे थे. हालांकि शुक्रवार को उनका निधन हो गया.

चंद्रो तोमर ने 60 साल की उम्र में निशानेबाजी को करियर बनाया था और कई राष्ट्रीय प्रतियोगिताएं भी जीती थीं. उन पर एक फिल्म भी बनाई गई. चंद्रो तोमर को विश्व का सबसे अधिक उम्र का निशानेबाज माना जाता था.