मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में जहरीली शराब पीकर मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. जहरीली शराब पिने से 24 घंटे में 8 और लोगों की मौत हो गई है. इस 8 लोगों को मरने के बाद मरने वालो की संख्या 20 हो गई है.

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस बात को लेकर इमर्जेन्सी मीटिंग बुलाई है. और बडा एक्शन लेते हुए मुरैना के डीएम और एसपी को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है. वही आपको बता दे की बता दें कि मुरैना के सुमावली थाना इलाके के पहावली गांव में 3 और बागचीनी इलाके के मानपुर गांव में 11 जनवरी को जहरीली शराब पीने से 7 लोगों की मौत हुई थी.इस घटना के सामने आने के बाद मुरैना से लेकर भोपाल तक हड़कंप मच गया.

पिछले 24 घंटे में जहरीली शराब का काल 8 और लोगों को निगल गया. इस मामले में कार्रवाई करते हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने थाना प्रभारी को सस्पेंड कर दिया और जांच दल गठित कर दी. गृहमंत्री ने कहा कि कोई भी दोषी होगा, चाहे वह कितना भी बड़ा हो उसे छोड़ा नहीं जाएगा.

प्रशासन ने इस मामले में बागचीनी थाना प्रभारी सहित बीट प्रभारियों को भी निलंबित किया है. इसके अलावा मुरैना आबकारी जिला अधिकारी को भी निलंबित कर दिया गया है. मृतक परिजनों की मांग पर पुलिस ने आरोपियों की संख्या 4 से बढ़ाकर 7 कर दी है.