शिवसेना नेता संजय राउत ने बीजेपी सरकार को तंज़ कस्ते हुए कहा की अगर किसान आंदोलन को लेकर चीन और पाकिस्तान का हाथ है तोह रक्षा मंत्री तुरंत चीन और पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक कर देनी चाइये। बीते दिन बुधवार को केंद्र सरकार के मंत्री रावसाहेब दानवे ने दवा किया था की किसान आंदोलन में चीन और पाकिस्तान का समर्थन है। शिवसेना नेता संजय राउत ने यह भी कहा कि राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री और गृह मंत्री को इस मुद्दे पर गंभीरता से विचार करना चाहिए।

कृषि कानून के विरोध में 15 दिन से किसान आंदोलन जारी है। किसान आंदोलन कर रहे किसानो ने सर्कार द्वारा उस प्रस्ताव को ख़ारिज करदिया , जिसमे सरकार ने किसानो से कहा था की वह एमएसपी को जारी रखने के लिए लिखित आश्वासन देने को तैयार है। किसान नेताओं ने यह भी कहा की सर्कार द्वारा कोई दूसरा प्रस्ताव आएगा तो उस पर भी चर्चा की जाएगी। किसान नेता शिव कुमार कक्का ने कहा था की अगर तीनो कानून रद्द नहीं किये गए तोह , किसान दिल्ली की सड़को को घेरना शुरू करदेंगे , किसान सिंघु बॉर्डर को पार कर दिल्ली में घुस जायेंगे और सारा दिल्ली घेर लेंगे।

वहीं, किसान नेता प्रह्लाद सिंह भारुखेड़ा ने कहा कि सरकार के प्रस्ताव में कुछ भी नया नहीं है और हम नये कृषि कानूनों के खिलाफ अपना प्रदर्शन जारी रखेंगे। तीन कृषि कानूनों के खिलाफ हजारों किसान पिछले कई दिनों से दिल्ली की अलग अलग सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे है।