NIA ने सचिन वाजे के खिलाफ UAPA की कई धाराएं भी लगाई हैं. इससे पहले सचिन वाजे के वकील ने कोर्ट में आवेदन दिया था कि उन्हें सीने में दर्द और हार्ट ब्लॉकेज की समस्या रहती है. इसके बाद NIA कोर्ट ने वाजे की मेडिकल रिपोर्ट मांगी थी.

मुंबई पुलिस के निलंबित अधिकारी सचिन वाजे को सात अप्रैल तक NIA (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) की कस्टडी में भेजा गया है. सचिन वाजे के भाई सुधारम वाजे ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि उन्हें न्यायिक प्रक्रिया और NIA में पूरा विश्वास है. बता दें कि सचिन वाजे एंटीलिया केस और मनसुख हिरेन हत्या मामले में मुख्य आरोपी है.

NIA ने सचिन वाजे के खिलाफ अनलॉफुल एक्टिविटीज (प्रीवेन्शन) एक्ट यानी UAPA की कई धाराएं भी लगाई हैं. इससे पहले सचिन वाजे के वकील ने कोर्ट में आवेदन दिया था कि उन्हें सीने में दर्द और हार्ट ब्लॉकेज की समस्या रहती है. इसके बाद NIA कोर्ट ने वाजे की मेडिकल रिपोर्ट मांगी थी.

NIA ने 13 मार्च को उसे गिरफ्तार किया था. शनिवार को ही उसकी कस्टडी खत्म हो रही थी. सचिन वाजे के वकील रौनक नाईक ने अदालत को एक एप्लीकेशन लिखी. इसमें उन्होंने कहा कि सचिन वाजे को सीने में दर्द के साथ-साथ हार्ट में 90% के दो ब्लॉकेज भी हैं. इसलिए वाजे को उनके कार्डियोलॉजिस्ट से मिलवाया जाए, ताकि उनका मेडिकल ट्रीटमेंट कोर्स शुरू हो सके. इसके बाद कोर्ट ने वाजे की मेडिकल रिपोर्ट मांगी थी.