बहुचर्चित सुशांत सिंह राजपूत केस में आज मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी गई है। सुप्रीम कोर्ट ने निणार्यक फैसला सुनाते हुए इस मामले की  जांच का अधिकार सीबीआई के हवाले करते हुए कहा कि महाराष्ट्र सरकार इस मामले की जांच में सीबीआई का सहयोग करेगी।

आपतो बता दें कि काफी दिनों से महाराष्ट्र औऱ बिहार पुलिस के बीच चल रही खींचतान के बाद यह साफ हो गया है कि सीबीआई इस केस की तह तक जाकर इसकी जांच करेगी। आज सुप्रीम कोर्ट की सिंगल बैंच की अध्यक्षता कर रहे न्यायाधीश ऋषिकेश रॉय ने फैसला सुनाते हुए कहा कि इस मामले में पटना में सुशांत के परिवार द्वारा करवाई गई एफआईआर को गलत नहीं ठहराया जा सकता।

इतना ही नहीं महाराष्ट्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ अपील करने की इजाजत मांगी थी जिसे सिंगल बैंच ने खारिज कर दिया। यानी इस मामले में अब महाराष्ट्र सरकार के लिए सभी रास्ते बंद हो चुके हैं। वहीं सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मणेशिंदे का बयान आया है। रिया के वकील ने कहा- ‘सुप्रीम कोर्ट ने मामले के तथ्यों और परिस्थितियों की जांच करने और मुंबई पुलिस की रिपोर्ट देखने के बाद पाया कि यह वांछित न्याय होगा क्योंकि रिया ने खुद CBI जांच के लिए कहा था।’