पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि देश की सबसे पुरानी पार्टी जिसने करीब 6 दशकों तक शासन किया, उसका ये हाल हो गया है कि पार्टी का राज्यसभा तबका एकतरफ चलता है और लोकसभा का अलग. ऐसी डिवाइडेड पार्टी या कहें कंफ्यूज पार्टी न खुद का भला कर सकती है न देश का. राज्यसभा में जो तबका है वो उमंग के साथ चर्चा करता है.वहीं ये कांग्रेस का दूसरा तबका है. कांग्रेस पार्टी ने लगातार हो रहे हमलों के बाद लोकसभा से वॉकआउट कर दिया.

इससे पहले किसानों के मुद्दे पर बोलते हुए पीएम ने कहा कि कानून लागू होने के बाद ना कही मंडी बंद हुई है और ना कही एमएसपी बंद हुई है.उन्होंने कहा कि ‘कांग्रेस के साथी कृषि कानूनों के कंटेट और इंटेट पर चर्चा करते तो किसानों तक सही चीजें पहुंचतीं’ लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया.प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के कुछ हिस्सों में इसका लाभ होगा तो हो सकता है कुछ इलाकों में नुकसान.हमने समाज के प्रगति के लिये कानून बनाया है. बेटियों को संपति देने का अधिकार देने की मांग किसी ने नही की थी लेकिन हमने बनाई है.