नयी दिल्ली में ड्राइवरलेस मेट्रो का सौगात हो चुका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को इस ड्राइवरलेस मेट्रो को हरी झंडी दिखाकर सौगात करदिया है। पहले चरण में ड्राइवरलेस मेट्रो मजेंटा लाइन पर जनकपुरी पश्चिम से नोएडा के बॉटनिकल गार्डन मेट्रो स्टेशन तक दौड़ेगी, जिसे बाद में आगे भी बढ़ाया जाएगा। ड्राइवरलेस मेट्रो को हरी झंडी दिखाते हुए पीएम मोदी ने कहा कि देश में 2025 तक करीब 25 शहरों में मेट्रो चलाने का प्लान है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेट्रो को हरी झंडी दिखाकर कहा की आज से 3 साल पहले मेजेंटा लाइन की शुरुआत हुई थी, अब इसी लाइन पर ड्राइवरलेस मेट्रो की शुरुआत हो रही है. पीएम मोदी ने कहा कि भविष्यों की जरूरतों के लिए देश आगे भड़ रहा है। PM मोदी ने कहा की पहले बस भ्रम की स्तिथि बानी रही थी, मगर कोई भविष्ये के लिए तयारी नहीं होती थी। जिसके कारण शहरी इन्फ्रास्ट्रक्चर की मांग और पूर्ति में काफी अंतर आया। शहरीकरण को चुनौती ना माना जाए और अवसर के तौर पर इस्तेमाल किया जाए।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा की अटल जी के प्रयासों से इस देश में मेट्रो का अघास हुआ था। जब हम सत्ता में आये तोह अब तक हमने 18 शहरों में मेट्रो को हरी झंडी दिखादि है, और आने वाले समय में 2025 तक हम 25 शहरों में मेट्रो का अघास करा देंगे। उन्होंने यह भी कहा की इन सब चीज़ो से ही आम आदमी की ज़िन्दगी में एक अच्छा बदलाव आएगा। पीएम मोदी ने कहा कि पहले देश में मेट्रो को लेकर कोई नीति नहीं थी, लेकिन हमने इसको लेकर तेजी से काम किया और शहरों के हिसाब से काम शुरू कर दिया है।

पीएम मोदी ने कहा कि मेट्रो से प्रदूषण भी कम होता है, हजारों वाहन सड़क से कम हुए हैं जो जाम और प्रदूषण का कारण बनते थे। पीएम मोदी ने कहा कि मेक इन इंडिया के कारण मेट्रो कोच की लागत कम हो गई है, सिर्फ देश ही नहीं बल्कि विदेश में भी मेट्रो कोच भेजे जा रहे है। पीएम मोदी ने कहा कि हम ऐसे सिस्टम पर काम कर रहे हैं, जिससे ब्रेक लगाने पर ऊर्जा वापस ग्रिड में चली जाए।