मध्य प्रदेश के लोक स्वास्थ्य व यांत्रिकी मंत्री बृजेंद्र सिंह यादव खराब नेटवर्क के चलते सिग्नल की तलाश में अशोकनगर जिले में एक गांव में चल रहे मेले में लगे झूले पर बैठकर 50 फुट ऊंचाई पर गए. इसकी एक तस्वीर र वीडियो वायरल होने के बाद लोगों ने व्यंग्य कसते हुए कहा कि क्या यही ‘डिजिटल भारत’ है.

आमखो गांव में झूले पर बैठे मंत्री की यह तस्वीर रविवार को एक न्यूजपेपर में प्रकाशित हुई और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ.

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, यह गांव मंत्री ब्रजेंद्र सिंह यादव के गांव सुरेल के पास है और चंदेरी तहसील में आता है. गांव चारों ओर से पहाड़ियों से घिरा हुआ है. वह इस गांव में नौ दिन की भागवत कथा करवा रहे हैं और इस कार्यक्रम में मेला भी लगा हुआ है, जिसमें झूले लगे हुए हैं. यहां 50 फुट का एक झूला आकर्षण का केंद्र बना हुआ है.

इलाके में मोबाइल नेटवर्क की परेशानी रहती है, इसलिए कथा में शामिल हो रहे मंत्री को जब नेटवर्क की परेशानी हुई तो वो झूले का इस्तेमाल कर ऊंचाई पर पहुंच कर लोगों से मोबाइल पर बात करते नजर आए.

यादव ने फोटो और वीडियो सामने आने पर मीडिया से कहा, ‘स्थानीय लोग अपनी समस्याओं को लेकर मेरे पास आ रहे हैं. इलाके में खराब मोबाइल नेटवर्क के चलते मैं उनकी मदद नहीं कर पा रहा हूं.’ उन्होंने कहा, ‘इसलिए मैं अच्छे सिग्नल पाने के लिए इस झूले पर बैठ कर ऊंचाई पर पहुंचने के बाद अधिकारियों से बात कर रहा था और लोगों की समस्याओं का निराकरण करवा रहा था.’