बिहार विधानसभा चुनाव के लिए मतदान खत्म हो चुका है और 10 नवंबर को नतीजे आएंगे. इंडिया-टुडे-एक्सिस माय इंडिया एग्जिट पोल के अनुमान बताते हैं कि बिहार की कुल 243 सीटों में 139-161 सीटें तेजस्वी यादव के नेतृत्व वाले महागठबंधन को मिलती दिख रही है।

विधानसभा चुनाव में पिछड़ने के अनुमान का असर पटना स्थित बीजेपी कार्यालय पर भी देखने को मिला. पटना स्थित बीजेपी कार्यालय रविवार को खाली-खाली नजर आया. प्रदेश का कोई पार्टी नेता, चुनाव प्रभारी अथवा अन्य कोई पदाधिकारी यहां नजर नहीं आया. कार्यालय पर सन्नाटा पसरा रहा।

तेजस्वी यादव ने पार्टी उम्मीदवारों से कहा कि नतीजों के बाद अपने क्षेत्र में जीत का जश्न-जलसा नहीं निकालें. जीत का जश्न जनता मनाएगी. उम्मीदवारों से कहा गया है कि वह नतीजों के दौरान क्षेत्र में रहें और फिर अपना सर्टिफिकेट लेने के बाद ही पटना का रुख करे।

वहीं राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) को बिहार में 69 से 91 सीटें मिलती हुई दिख रही हैं. इसी तरह अकेले चुनाव लड़ने वाली एलजेपी को 3-5 सीटों पर जीत मिलने का अनुमान है, मगर वोट सात फीसदी मिलता दिख रहा है. दूसरी ओर महागठबंधन को 44 फीसदी और एनडीए को 39 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है।

वहीं, इसके उलट राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के दफ्तर पर अलग ही तस्वीर देखने को मिली. लेकिन आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने अपने कार्यकर्ताओं को नसीहत दी है कि जीत का जश्न जनता मनाएगी. तेजस्वी यादव ने आरजेडी उम्मीदवारों को संदेश भेजा है. अपने संदेश में तेजस्वी यादव ने कहा है कि 10 तारीख को जब नतीजे सामने आएंगे तो राष्ट्रीय जनता दल के उम्मीदवार बेहद सरलता और सादगी का परिचय दें।