एक नया सोशल मीडिया ऐप Clubhouse पिछले कुछ समय से चर्चा में है. इस ऐप को 2020 में लॉन्च किया गया है. पिछली बार ये चर्चा में तब आया था जब Tesla और SpaceX के CEO Elon Musk की इसमें मौजूदगी को लेकर जानकारी मिली थी.

अब BJP की ओर से बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के चुनवाी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के कुछ Clubhouse ऑडियो चैट्स जारी किए गए हैं. इस बीच ये ऐप फिर से एक बार चर्चा में है. ऐसे में आइए आपको बताते हैं कि आखिर ये ऐप है क्या और ये काम कैसे करता है.

क्या है Clubhouse?

ये एक वॉयस-बेस्ड सोशल मीडिया ऐप है. ये फिलहाल ऐपल ऐप स्टोर पर ही उपलब्ध है. इसकी खास बात इसकी प्राइवेसी है. ये ऐप में होने वाले ऑडियो चैट्स को स्टोर करके नहीं रखता. इस ऐप में एंट्री के बाद आप अपनी पसंद के टॉपिक के हिसाब से अलग-अलग चैट्स में इन और आउट हो सकते हैं. यहां आप अलग-अलग रूम्स में हो रही बातों को सुन सकते हैं.

Clubhouse को कैसे एक्सेस किया जा सकता है?

ये ऐप सभी के लिए नहीं है. या यूं कहें ये थोड़ा एक्सक्लूसिव है. Clubhouse में एंट्री के लिए आपको इनवाइट की जरूरत होगी. कोई भी मौजूदा क्लबहाउस यूजर आपको एक इनवाइट भेज सकता है. हालांकि, एक यूजर के पास केवल दो इनवाइट ही होते हैं. चूंकि फिहाल ये iOS के लिए है. ऐसे में iPhone यूजर्स इसे डाउनलोड कर सकते हैं और एक यूजरनेम के साथ ‘इन’ होने का वेट कर सकते हैं. लेकिन, ये इंतजार कितना लंबा होगा इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता.

Clubhouse के अंदर होता क्या है?

अगर आप इस ऐप के अंदर हैं तो आप अलग-अलग लोगों, क्लब और टॉपिक्स को फॉलो कर सकते हैं. यहां अलग-अलग रूम होते हैं. इन्हें आप जॉइन कर सकते हैं और वहां बोल रहे लोगों को फॉलो कर सकते हैं.

इन ऑडियो चैट रूम्स में मॉडरेटर्स होते हैं और इन्हीं के पास अथॉरिटी होता है. यूजर्स के पास अपनी बात रखने का ऑप्शन होता है. इसके लिए हाथ उठा सकते हैं. लेकिन, ये मॉडरेटर पर निर्भर करता है कि वो आपको अपनी बात रखने का मौका देता है या नहीं.