दुनिया भर के विभिन्न छेत्रो पर वैक्सीन बनाने की प्रक्रिया चालू है और वही ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन के ट्रायल से राहत की खबर सामने आई है।

कोरोना जैसी महामारी से लड़ने के लिए एक रहत भरी खबर सामने आयी है। जिस कोरोना वैक्सीन का ट्रायल ऑक्सफ़ोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा किया जा रहा है उसके कुछ शुभ संकेत आये है। वैक्सीन सिर्फ युवाओं पर ही नहीं बल्कि बुजुर्गों का भी इम्यून सिस्टम मजबूत बनाने के कायम है जो कोरोना के खिलाफ लड़ाई में कारगर साबित हो सकता है| इस वैक्सीन को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राज़ेनेका एक साथ मिलकर डेवेलोप कर रहे है, जिसका हाल ही में बुजुर्गो पर ट्रायल किया गया था, और उम्मीद है की ये इम्युनिटी लेवल के पैमाने पर खरा उतरेगा।

एस्ट्राज़ेनेका की ओर से बयान में कहा गया, ‘ये अच्छा परिणाम है कि युवा और बुजुर्ग दोनों में ही इम्युनिटी को लेकर रिस्पॉन्स समान रहा है, जबकि बुजुर्गों को प्रतिक्रिया क्षमता की उम्मीद पहले कम थी जिससे उनपर कोरोना का खतरा अधिक बढ़ता है, लेकिन ट्रायल सफल रहा. ये नतीजे आगे चलकर AZD1222 के अच्छे  नतीजे दिखा सकते हैं.