• भारत के दो प्लेयर निहाल और दिव्या मैच के दौरान सर्वर की खराबी के कारण डिस्कनेक्ट हो गए थे
  • तभी रूस को विजेता घोषित किया गया था, इसके बाद भारत ने इस विवादित फैसले का विरोध किया
  • ऑनलाइन चेस ओलिंपियाड टूर्नामेंट में रविवार को नाटकीय ढंग से रूस और भारत दोनों को संयुक्त रूप से विजेता घोषित किया गया। दोनों को गोल्ड मेडल मिला। फाइनल में सर्वर की खराबी के कारण मैच पूरे नहीं हो सके थे, जिसके कारण यह फैसला लिया गया।

    दरअसल, मैच के दौरान भारत के दो प्लेयर निहाल सरिन और दिव्या देशमुख सर्वर की खराबी के कारण डिस्कनेक्ट हो गए थे। तभी रूस को विजेता घोषित कर दिया गया था। इसके बाद भारत ने इस विवादित फैसले का विरोध किया। 

  • भारत की अपील पर जांच की जा रही
    कोरोना के कारण इंटरनेशनल चेस फेडरेशनल (फीडे) ने पहली बार ऑनलाइन फॉर्मेट से यह टूर्नामेंट कराया था। वर्ल्ड चेस बॉडी ने ट्वीट किया, ‘‘फिडे के अध्यक्ष आकार्डी वोरकोविच ने भारत और रूस दोनों टीम को ऑनलाइन शतंरज ओलिंपियाड में गोल्ड मेडल देने का फैसला किया है। भारतीय खिलाड़ियों का कनेक्शन टूटने और समय निकल जाने को लेकर भारत ने आधिकारिक तौर पर अपील की। इसकी अब जांच की जा रही है।’’

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत और रूस दोनों टीमों को बधाई दी।

  • तीन खिलाड़ियों का कनेक्शन टूटा था
    भारतीय टीम के नॉन प्लेइंग कप्तान श्रीनाथ नारायण ने न्यूज एजेंसी से कहा, ‘‘फिडे ने हमें बताया है कि फाइनल के दूसरे राउंड में हमारी 3 प्लेयर कोनेरू हंपी, निहाल सरीन और दिव्या देशमुख सर्वर प्रोब्लम के कारण लॉग आउट हो गए थे। इसके बाद हमने निष्पक्ष फैसले की मांग की थी।’’ भारत ने यह कहते हुए अपील की है कि यह प्रोब्लम चेस डॉट कॉम के