तूफान ‘सैली’ बुधवार को फ्लोरिडा-अलबामा सीमा पर पहुंचा। इसमें 165 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही थीं और बारिश इतनी मूसलाधार थी जिसे इंच में नहीं बल्कि फुट में मापा जा रहा था। तूफान की चपेट में आकर कम से कम एक व्यक्ति की मौत हो गई और घरों में पानी घुस जाने के कारण सैकड़ों लोगों को वहां से निकालना पड़ा। अलबामा के मेयर टोनी केनन ने बताया कि एक व्यक्ति लापता है, वहीं एक व्यक्ति की मौत ऑरेंज बीच पर हुई है।

पुलिस के मुताबिक ‘सैली’ के आने के साथ ही, पेड़ गिर गए, घरों की छतें उड़ गईं और 5,40,000 से अधिक घरों तथा दफ्तरों की बिजली गुल हो गई। पुलिस ने कहा कि क्रिस्टोफर कोलंबस के जहाज नीना का एक प्रतिरूप लापता है जो पेनसाकोला तट पर खड़ा था। तूफान की वजह से अलबामा के गल्फ स्टेट पार्क में मछली पकड़ने के लिए इस्तेमाल होने वाला एक सेतुबंध उसी दिन बह गया जिस दिन उसका उद्घाटन कार्यक्रम था। 24 लाख डॉलर की लागत से उसका पुनरुद्धार किया गया था।

एस्काम्बिया के अधिकारियों ने बताया कि बाढ़ग्रस्त इलाकों से कम से कम 377 लोगों को बचाया गया है। शेरिफ डेविड मॉर्गन ने कहा कि जलस्तर बढ़ने से फंस गये 40 से अधिक लोगों को एक घंटे के भीतर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया जिनमें एक परिवार के चार सदस्य पेड़ पर मिले। एस्काम्बिया काउंटी तथा अलबामा के कुछ तटीय कस्बों में कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है। दोपहर बाद तक सैली कमजोर ऊष्ण कटिबंधीय तूफान में तब्दील हो गया।