यदि आप कार में इस बात से आगे बैठने में कतराते हो की सीट बेल्ट नहीं लगानी पड़ेगी.तो हुज़ूर हो जाइये सावधान क्योकि दिल्ली की ट्रैफिक व्यवस्था में बड़े बदलाव हुए है.आपके पास चार पहिये वाहन हो या दो पहिये सबके लिए नियम में बदलाव किये गए है.ये बदलाव इस लिहाज़ से भी किया गया ताकि सड़क दुर्घटना जैसी घटनाओं को कम किया जा सके.

कुछ लोग इस नियम का मखौल उड़ा रहे तो कुछ सुरक्षा की दृष्टि से जरूरी नियम बता रहे.आम जनता का कहना है पुलिस के लिए कमाई का एक और नया जरिया बन जायेगा ये यातायात के नए नियम.ये भी कह कुछ लोग पुलिस क़ानून के आड़ में गलत फायदा उठाती हैं.दिल्ली पुलिस ने इन नियम को लेकर पिछले हफ्ते ही नोटिस जारी किया था। इस नियम का मकसद रोड सुरक्षा और सेफ ड्राइविंग को सुनिश्चित करना है।

क्या है नियम में बदलाव –

अगर आपने पीछे बैठकर सील्ट बेल्ट नहीं लगाई तो आपको 1,000 रुपये तक का जुर्माना देना पड़ सकता है। ऐसे में अगर आप राजधानी में ड्राइविंग कर रहे हैं तो आपको इन नियमों का पालन करना होगा।दिल्ली पुलिस का प्लान अब इस नियम को पूरी राजधानी में लागू करने की है।
इसके अलावा अब अगर आपने अपनी मोटरसाइकिल और स्कूटर में रीयरव्यू मिरर नहीं लगवाएं हैं तो आप अपना चालान कटवाने के लिए तैयार हो जाइए। दिल्ली पुलिस ने नए नियम को लागू कर दिया है जिसके मुताबिक, रीयरव्यू मिरर लगाना अब जरूरी होगा। अगर आपने इस नियम का पालन नहीं किया तो आपका चालान कट सकता है।