नई दिल्ली मेट्रो की स्थापित हुए करीब 25 साल पुरे हो गए.राजधानी की मेट्रो में समय-समय से बदलाव हमेसा से देखने को मिला है. इस बार प्रधानमंत्री ने नई दिल्ली मेट्रो को सौगात भेंट की है.PM मोदी ने आज देश को सम्बोधित करते हुए ये घोसना किया की 2025 तक देश के 25 शहरों में मेट्रो दौड़ेगी.मोदी ने ड्राइवरलेस मेट्रो चलाने की इज़ाज़त दे दी है.

पहले चरण में ड्राइवरलेस मेट्रो मजेंटा लाइन पर जनकपुरी पश्चिम से नोएडा के बॉटनिकल गार्डन मेट्रो स्टेशन तक दौड़ेगी, जिसे बाद में आगे भी बढ़ाया जाएगा.और उसके कार्यप्रणाली के अनुरूप आगे की रुपरेखा तय की जाएगी.PM मोदी ने कहा की आज से 3 साल पहले मैजेंटा लाइन की शुरुआत हुई थी और उसी लाइन पर भारत में पहली बार बिना ड्राइवर की मेट्रो भी दौड़ेगी.

प्रधानमंत्री ने कहा की कुछ लोग भ्रम फैला रहे थे सरकार के पास भविस्य का कोई तैयारी नहीं है और ना ही कोई प्लान है.मगर मई उनको बता दूँ,सरकार के पास हर तरह की तैयारी है.ये भी कहा की शहरीकरण को चुनौती ना माना जाए सरकार गांव को शहर भी वो सब सुविधा मिलेगी जो एक शहर को मिल रहा.

इस तरह से कुल 94 किलोमीटर तक ड्राइवरलेस ट्रेनें दौड़ाने की योजना है.आम मेट्रो ट्रेन की तरह ही ड्राइवरलेस ट्रेन में भी 6 कोच होंगे. दिल्ली मेट्रो ने ड्राइवरलेस ट्रेन को एक बड़ी तकनीकी उपलब्धि बताया है.डीएमआरसी पिछले करीब 3 साल से ड्राइवरलेस मेट्रो ट्रेन का ट्रायल कर रहा था. दिल्ली मेट्रो ने पहली बार सितंबर 2017 को इसका ट्रायल शुरू किया था.