कृषि कानून का विरोध कर रहे किसानो को आज 11 दिन हो चुके हैं , दिल्ली हरयाणा बॉर्डर पर स्थित सिंधु बॉर्डर पर हज़ारो किसानो की भीड़ पिछले 10 से 24 घंटे आंदोलन में जुटी हुई है। किसान आंदोलन टिकरी बॉर्डर और ग़ाज़ीपुर बॉर्डर पर भी जारी है , इसके अलावा बुराडी ग्राउंड पर भी कुछ किसान डटे हुए हैं। सिंधु बॉर्डर पर दिन पर दिन किसानो की तादात बढ़ती नज़र आरही है इसी के साथ पुलिस फाॅर्स में भी इज़ाफ़ा होता नज़र आरहा है। दिल्ली पुलिस की एंटी टेरर स्क्वाड, स्पेशल सेल के सीनियर अफसर भी अब ड्यूटी में तैनात किए गए हैं.

किसानो और सरकार के बीच 5 दौर की बैठक हो चुकी है , लेकिन कोई परिणाम नहीं आया है तोह आंदोलन अभी भी जारी है। किसानो ने 8 दिसंबर को भारत बंद का ऐलान करा है , इसी के साथ सबकी निगाहें 9 दिसंबर को होने वाली सरकार और किसानो के बीच बातचीत पर ही टिकी हैं।

दिल्ली में काफी बॉर्डर ब्लॉक करने के कारण दिल्ली पुलिस ने राजधानी में ट्रैफिक मैनेजमेंट की जानकारी देते हुए कहा है कि कालिंदी कुंज, सूरज कुंड, बदरपुर और आयानगर बॉर्डर दोनों ओर खुला हुआ है। हरियाणा जाने के लिए धंसा, दरौला, कापसेहड़ा, रजोकरी एनएच-8, बिजवासन, पलाम विहार और दुंढेरा बॉर्डर का इस्तेमाल किया जा सकता है.