दुनियाभर में हो रहे विरोध के बाद WhatsApp ने अब अपने कदम पीछे खींचने का फैसला कर लिया है. कंपनी ने अपने नए प्राइवेसी पॉलिसी को वापस लेने का फैसला कर लिया है.

WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी (Privacy Policy) का विरोध जारी है. लोगों की निजी जानकारी जबर्दस्ती लेने का नया फैसला WhatsApp को भारी पड़ा है. सिर्फ आम यूजर्स ही नहीं बल्कि कई बड़ी कंपनियों के CEO और Business Tycoons भी इस मैसेजिंग प्लेटफॉर्म (Messaging Platform) को छोड़कर दूसरी ऐप चुनने लगे हैं. प्राप्त जानकारी के मुताबिक पेमेंट गेटवे ऐप PhonePe के सीईओ समेत कंपनी के 1000 से ज्यादा कर्मचारियों ने अपने मोबाइल से WhatsApp हटा दिया है. अब ये कर्मचारी अपने सभी कार्यों के लिए Signal यूज करने लगे हैं. कंपनी के सीईओ समीर निगम (PhonePe CEO Sameer Nigam) ने ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी है।

ANI की रिपोर्ट के मुताबिक WhatsApp ने नए प्राइवेसी पॉलिसी को फिलहाल स्थगित (Privacy Policy Postpone) करने का फैसला कर लिया है. कंपनी ने अपने बयान में कहा है कि नए पॉलिसी को स्थगित करने के पीछे अफवाहों का फैलना है. बयान में आगे कहा गया है कि किसी भी WhatsApp यूजर का अकांउट बंद नहीं होगा. पॉलिसी नहीं मानने वालों का 8 फरवरी के बाद भी अकाउंट चलता रहेगा.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक WhatsApp पूरी दुनिया में चल रहे अफवाहों के खिलाफ अभियान चलाएगा. यूजर्स को नए प्राइवेसी पॉलिसी को रिव्यू करने के लिए पर्याप्त समय दिया जाएगा