मुंबई: शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ के संपादकीय में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) पर जोरदार हमला बोला। संपादकीय में शिवसेना ने अकाली दल के कंधे पर बंदूक रखकर NDA को निशाना बनाया। लेख में लिखा गया, “पंजाब के अकाली दल ने भी NDA छोड़ दिया है। चलो अच्छा हुआ पीछा छूटा की तर्ज पर उनका इस्तीफा तुरंत स्वीकार कर लिया गया। उन्हें लगा था कि उनसे कहा जाएगा कि वह विचलित न हों, ऐसा कदम न उठाएं लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ।”

संपादकीय में आगे लिखा गया, “केंद्र सरकार की सत्ता हाथ में है तो कुछ भी असंभव नहीं है, लेकिन सत्ता का ‘किला’ भले जीत लिया हो पर वह NDA के दो शेरों को गंवा चुके हैं, इस तथ्य से कैसे इनकार किया जा सकता है?” बता दें कि साल 2019 में महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर BJP और शिवसेना के बीच तकरार होने के बाद शिवसेना ने NDA से किनारा कर लिया था और अब कृषि विधेयकों (जो अब कानून बन गया है) को लेकर अकाली दल ने NDA छोड़ दिया।