केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज छत्तीसगढ़ के जगदलपुर पहुंच गए हैं. उन्होंने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी. साथ ही अस्पताल में घायल जवानों से मुलाकात करेंगे.

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए नक्सली हमले में 22 जवान शहीद हो गए हैं. नक्सलियों के इस कायरना हरकत के बाद गृह मंत्रालय अलर्ट मोड में आ गया है और नक्सलियों के खिलाफ बड़े ऑपरेशन की तैयारी की जा रही है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज छत्तीसगढ़ के जगदलपुर पहुंच गए हैं. उन्होंने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी.

इसके साथ गृह मंत्री अमित शाह आज अस्पताल में घायल जवानों से मुलाकात करेंगे. सुबह ही अमित शाह दिल्ली से जगदलपुर के लिए रवाना हुए. इसके साथ ही नक्सल पर एक बड़ी बैठक भी गृह मंत्री अमित शाह करेंगे. इससे पहले दिल्ली में अमित शाह ने बड़ी बैठक की थी, जिसमें खुफिया एजेंसियों के साथ अर्धसैनिक बलों के अफसर शामिल थे.

ये है अमित शाह का पूरा कार्यक्रम
गृह मंत्री अमित शाह जगदलपुर पहुंच गए हैं. यहां उन्होंने शहीदों को श्रद्धांजलि दी. इसके बाद वह सीधे जगदलपुर पुलिस लाईन पहुंचेंगे, जहां केंद्र और राज्य की एजेंसियों के साथ मीटिंग होगी. इस बैठक में सीएम भूपेश बघेल भी शामिल हो सकते हैं. इसके बाद वह बासागुडा स्थित सीआरपीएफ कैंप में जाएंगे और जवानों से बात करेंगे.

इसके बाद गृह मंत्री अमित शाह फिर जगदलपुर आएंगे और फिर रायपुर पहुंचेंगे. यहां से सड़क के रास्ते वह रामकृष्ण हॉस्पिटल, नारायण हॉस्पिटल और एमएमआई हॉस्पिटल जाएंगे. इन्हीं अस्पतालों में एनकाउंटर के दौरान घायल जवान भर्ती हैं. जवानों से मुलाकात के बाद गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली लौट आएंगे.

क्या है पूरा मामला
शनिवार 3 अप्रैल 2021. छत्तीसगढ़ के बीजापुर और सुकमा ज़िले की सीमा पर नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हुई. नक्सलियों ने  700 जवानों को घेरकर हमला किया. इस मुठभेड़ में 22 जवान शहीद हो गए हैं. 3 अप्रैल को मौके से एक जवान का शव बरामद किया गया था. 21 जवान लापता थे.

4 अप्रैल को सर्च ऑपरेशन के दौरान 21 और जवानों के शव बरामद किए गए. अभी भी एक जवान गायब है जिसकी तलाश जारी है. इस मुठभेड़ में 31 जवान ज़ख्मी भी हुए हैं, जिनका इलाज किया जा रहा है. इनमें कोबरा बटालियन, DRG, STF और एक बस्तरिया बटालियन के जवान शामिल है.

एनकाउंटर को लेकर गृह मंत्री अमित शाह भी असम से लौटे और कल शाम टॉप लेवल मीटिंग की. दिल्ली में शाह के निवास पर हुई इस मीटिंग में गृह सचिव अजय भल्ला, IB के डायरेक्टर अरविंद कुमार और CRPF के सीनियर अधिकारी मौजूद रहे. मीटिंग में घटना के कारणों और एक्शन प्लान पर चर्चा हुई.

उधर छत्तीसगढ़ में हुए नक्सली हमले में शहीद हुए यूपी के वीर जवानों के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने बड़ा ऐलान किया है. शहीदों के नाम पर गांव की सड़के बनाए जाने की घोषणा भी की है. सुरक्षाबलों पर हमले को अंजाम देने के पीछे टॉप नक्सल कमांडर हिडमा का नाम सामने आ रहा है.