सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच को लेकर बिहार और मुंबई पुलिस के बीच शुरू हुआ तकरार थमता नहीं दिख रहा। बिहार पुलिस के अधिकारियों पर मुकदमें का आवेदन दिए जाने से बिफरे डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय ने मुंबई पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर दिए। उन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस की इमेज विलेन की बन गई है। हालांकि मुंबई पुलिस कमिश्नर ने बुधवार की शाम डीजीपी को फोन कर बताया कि बिहार पुलिस के अफसरों पर कोई मुकदमा दर्ज नहीं किया गया है।

डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय के मुताबिक बिहार पुलिस के अफसरों पर मामला दर्ज किए जाने की खबर आ रही थी। इसके लिए उन्होंने मुंबई पुलिस कमिश्नर को एसएमएस किया। वह जानना चाहते थे कि वाकई मुकदमा हुआ है या नहीं। यदि ऐसा है तो उन्हें मुकदमें का पूरा ब्योरा भेजा जाए ताकि वह अपनी कार्रवाई कर सकें। डीजीपी के मुताबिक एसएमएस भेजे जाने के बाद मुंबई पुलिस कमिश्नर ने उन्हें फोन किया और बताया कि कोई मुकदमा दर्ज नहीं किया गया। यह अफवाह है।