केरल में दक्षिण पश्चिम मॉनसून के 31 मई तक पहुंचने की उम्मीद है और यह पांच जून तक गोवा पहुंचेगा. आईएमडी के वरिष्ठ वैज्ञानिक राहुल एम ने कहा, केरल में 31 मई के करीब दक्षिण पश्चिम मॉनसून के लिए स्थितियां अनुकूल बन सकती हैं.

केरल में मॉनसून सामान्य तौर पर एक जून को पहुंचता है जबकि गोवा में मॉनसून की पहली फुहार छह जून तक पड़ती है. केरल से गोवा पहुंचने का इसका समय स्थितियों पर निर्भर करता है. आईएमडी ने घोषणा की थी कि मॉनसून 21 मई को अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह पहुंचेगा.

दिल्ली वालों को जल्द मिलेगी गर्मी से राहत

राजधानी में रविवार सुबह न्यूनतम तापमान इस मौसम के औसत से दो डिग्री नीचे 25.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया कि अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है. नमी का स्तर 65 प्रतिशत रहा. दिन में आंशिक रूप से बादल छाए रहने और बिजली चमकने, मेघ गरजने का भी अनुमान है. इससे लोगों को गर्मी से काफी हद तक राहत मिलेगी.

यूपी के कई जिलों में होगी भारी बारिश, ऑरेंज अलर्ट भी जारी

बंगाल की खाड़ी से उठे चक्रवाती तूफान यास का असर उत्तर प्रदेश में साफ दिखाई दे रहा है. प्रदेश के कई जिलों में बादल छाए हुए हैं और कई जगह बूंदाबांदी और हल्की बारिश हो रही है. मौसम विभाग के मुताबिक  पूर्वांचल में यास तूफान का व्यापक असर देखने को मिलेगा.

30 मई तक पूर्वांचल के जिलों समेत लखनऊ, बाराबंकी, गाजियाबाद, सहारनपुर, मथुरा, अयोध्या, सीतापुर, और हमीरपुर समेत कई जिलों में झमाझम बारिश का दौर जारी रहेगा. बारिश होने से तापमान में भी गिरावट आएगी. मौसम वैज्ञानिकों ने यूपी के कई जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया है.