पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के पहले सत्‍तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और मुख्‍य विपक्षी दल बीजेपी के बीच ‘बयान वार’ जारी है. बीजेपी के पूर्व अध्‍यक्ष और केंद्रीय मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने गुरुवार को कूच बिहार में रैली करके राज्‍य की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और उनकी सरकार पर निशाना साधा था. ममता दीदी भी कहां पीछे रहने वाली थीं, उन्‍होंने अमित शाह को अपने ही अंदाज में जवाब दिया. ममता ने कहा, ‘हम उनका स्‍वागत करते हैं लेकिन जो बात उन्‍होंने कही, उनकी बॉडी लेंग्‍वेज, मानसिकता और धमकी भरा व्‍यवहार उनकी पोजीशन के लिहाज से अनुकूल नहीं कहा जा सकता. आप मुझे ‘गाली’ तो दे सकते हैं, मेरी अनदेखी नहीं कर सकते.’

सीएम ममता बनर्जी ने कहा, ‘हर समय वे बंगाल को ‘गाली देते’ रहते हैं. यहां प्रचार के लिए आइए लेकिन मुझे धमकी देने की कोशिश मत करिए. मुझे आपसे कोई भय नहीं है. दीदी को कुछ भी करने के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता.’ ममता ने कहा, ‘मैं इसी भूमि पर जन्‍मी हूं, श्री रामकृष्‍ण और स्‍वामी विवेकानंद को मैंने पढ़ा हैं. आप मुझे धमकी नहीं दे सकते. मैं ‘इस खेल’ के लिए तैयार हूं, देखना चाहती हूं कि आप कितने ‘गोल’ कर पाते हैं. यदि आपको विश्‍वास होता तो बेफिजूल की बात नहीं करते. यह बंगाल है आपकी गुंडागर्दी यहां नहीं चलने वाली.’

गौरतलब है कि अपनी चुनावी रैली में अमित शाह ने ममता बनर्जी पर कटाक्ष करते हुए कहा था कि ‘बंगाल में जय श्री राम बोलना आपने गुनाह कर दिया. बंगाल में जय श्री राम नहीं बोला जाएगा तो पाकिस्तान में बोला जाएगा. आप ही बताएं कि क्या जय श्री राम नहीं बोलना चाहिए. ममता दीदी को ये अपमान लगता है. आपको क्यों लगता है?’ उन्होंने आगे कहा, ‘पूरा देश और दुनियाभर में करोड़ों लोग श्रीराम को याद करके गौरव महसूस करते हैं, लेकिन आपको ये अपमान लगता है. मैं आपको वादा करता हूं कि जब तक चुनाव खत्म होंगे, ममता दीदी भी ‘जय श्री राम’ कहने लगेंगी.’ अमित शाह ने कहा कि ‘टीएमसी के गुंडों ने अब तक 130 बीजेपी कार्यकर्ताओं को मारा है, उनके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया गया है. एक बार हमारी सरकार सत्ता में आएगी, तो इन हत्यारों को जेल भेजेंगे.’