ऋषभ पंत महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ दिल्ली कैपिटल्स के लिए अपनी कप्तानी पारी की शुरुआत करने के लिए बेताब हैं और उन्हें उम्मीद है कि वह इस दिग्गज पूर्व कप्तान से सीखे गुर का इस्तेमाल शनिवार को इंडियन प्रीमियर लीग मुकाबले में उन्हीं की टीम को हराने के लिए करेंगे. दिल्ली और धोनी की सुपरकिंगस शनिवार को यहां आमने सामने होंगी. तेइस साल के प्रतिभावान विकेटकीपर बल्लेबाज पंत इस मुकाबले के साथ कप्तान के रूप में अपनी पारी का आगाज करेंगे.

दिल्ली कैपिटल्स की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में पंत ने कहा, ”कप्तान के रूप में मेरा पहला मुकाबला माही भाई (महेंद्र सिंह धोनी) के खिलाफ होगा. यह मेरे लिए अच्छा अनुभव होगा क्योंकि मैंने उनसे काफी कुछ सीखा है. एक खिलाड़ी के रूप में मेरे अपने अनुभव भी हैं.”

धोनी से मिली सीख को लागू करूंगा

उन्होंने कहा, ”मैं अपने अनुभवी और महेंद्र सिंह धोनी से मिली सीख को लागू करूंगा और सुपरकिंग्स के खिलाफ कुछ अलग करने का प्रयास करूंगा.” अपने अंतरराष्ट्रीय करियर के दौरान उतार चढ़ाव का सामना करने वाले पंत पिछले कुछ समय से शानदार फॉर्म में चल रहे हैं.

कई बार पंत की तुलना धोनी के साथ होती है लेकिन यह युवा खिलाड़ी कह चुका है कि उसका लक्ष्य अपने लिए अलग जगह बनाना है. वह हालांकि धोनी से सलाह लेते हैं. पंत ने 68 आईपील मैचों में 2,079 रन बनाए हैं. उन्होंने कहा कि वह दिल्ली को पहला आईपीएल खिताब दिलाने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे.

‘इस बार खिताब जीतने में सफल रहेंगे’

टीम पर मुख्य कोच रिकी पोंटिंग के प्रभाव के बारे में पूछने पर पंत ने कहा, ”पिछले दो-तीन साल से उसने (पोंटिंग) हमारे लिए शानदार काम किया है.” उन्होंने कहा, ”वह टीम में ऊर्जा लेकर आता है और एक खिलाड़ी के रूप में जब आप अपने कोच को देखते हो और सोचते हो कि इस व्यक्ति से आप काफी कुछ सीख सकते हो तो फिर इससे बेहतर कुछ नहीं होता.”

पंत ने कहा, ”उम्मीद करते हैं कि रिकी और पूरी टीम की मदद से हम इस बार खिताब जीतने में सफल रहेंगे.”