देहरादून, जेएनएन। उत्तराखंड में बारिश आफत बनी हुई है। चारधाम यात्रा मार्गों के साथ ही कई सड़क मार्ग जगह-जगह भूस्खलन के चलते खतरनाक हो रहे हैं। इससे आवाजाही ठप होने के साथ ही आम जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित है। आलम ये है कि किसी हादसे में घायल या गर्भवती महिलाओं को इलाज के लिए अस्पताल ले जाने में कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसा ही एक मामला शुक्रवार को चमोली जिले में सामने आया, जहां सड़क निर्माण में लगा एक मजदूर घायल हो गया। बदरीनाथ हाईवे बंद होने के कारण उसे साथी मजदूरों ने जान जोखिम में डाल चट्टान को पार कर एंबुलेंस तक पहुंचाया।

उत्‍तराखंड में चारधाम यात्रा मार्ग जगह-जगह भूस्खलन होने से खतरनाक बने हुए हैं। वहीं, अन्य सड़क मार्ग भी बाधित हैं। बदरीनाथ हाईवे पिनोला में अवरुद्ध होने से राहगीरों को आवाजाही में दिक्कतें हो रही हैं। शुक्रवार को माणा क्षेत्र में सड़क निर्माण कार्य के दौरान एक मजदूर गिरकर घायल हो गया। पिनौला में सड़क बंद होने के चलते साथी मजदूरों ने डंडों पर चादर बांधकर स्ट्रेचर बनाया और फिर सड़क पर आई चट्टान को जान हथेली पर रख पार किया, जिसके बाद ही घायल को एंबुलेंस तक पहुंचाया जा सका।

prince (b-4school)