Kisan Vikas Patra: किसान विकास पत्र (KVP) सरकार द्वारा समर्थित बचत योजनाओं में शामिल हैं, जहां रकम के दोगुना होने की गारंटी है. सरकार द्वारा समर्थित होने की वजह से यहां जोखिम नहीं होता है और आपका निवेश पूरी तरह से सुरक्षित रहता है. यह स्कीम उन निवेशकों के लिए बेहतर है, जो लांग टर्म इन्वेस्टमेंट करने की सोच रहे हैं. किसान विकास पत्र देश के सभी डाकघरों और बड़े बैंकों में मौजूद है. इसका मेच्योरिटी पीरियड अभी 124 महीने है. इसमें न्यूनतम निवेश 1000 रुपये का होता है. अधिकतम निवेश की कोई लिमिट नहीं है.

50 हजार रुपये तक के सर्टिफिकेट

KVP में 1000 रुपये, 5000 रुपये, 10,000 रुपये और 50,000 रुपये तक के सर्टिफिकेट हैं, जिन्हें खरीदे जा सकते हैं.

किसान विकास पत्र के प्रकार

सिंगल होल्डर सर्टिफिकेट: एक वयस्क व्यक्ति या एक नाबालिग के लिए
जॉइंट A: ज्वॉइंट रूप दो वयस्कों के लिए. यह दोनों व्यक्तियों या मेच्योरिटी तक जीवित रहने वाले व्यक्ति को लाभ देता है.
जॉइंट B: ज्वॉइंट रूप दो वयस्कों के लिए. यह दोनों व्यक्ति में से किसी एक को या फिर मेच्योरिटी तक जीवित रहने वाले को भुगतान किया जाता है.

ब्याज दर और मेच्योरिटी

किसान विकास पत्र अकाउंट के तहत अभी ब्याज दर 6.9 फीसदी सालाना है. यह स्कीम पैसा डबल करने की गारंटी लेती है. मौजूदा ब्याज दर के हिसाब से यहां आपके निवेश को डबल होने में 124 महीने लगेंगे. यानी इसकी मेच्योरिटी अवधि अभी 124 महीने है. बीते मार्च तिमाही में इस पर ब्याज दर 7.7 फीसदी सालाना थी और यहां 112 महीने में पैसे डबल हो जाते थे. दिसंबर तिमाही में भी ब्याज दर 707 फीसदी था. हालांकि वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में ब्याज 7.3 फीसदी था और पैसे डबल होने में 118 महीने लगते थे.

खाता खोलने के लिए क्या है जरूरी

KYC प्रक्रिया के लिए पहचान प्रमाण, एड्रेस प्रूफ
इसके लिए आधार कार्ड या पैन कार्ड या वोटर ID कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस या पासपोर्ट वैलिड है. इसके अलावा KVP आवेदन पत्र और डेथ आफ बर्थ सर्टिफिकेट चाहिए.

कैसे खोलें अकाउंट

  • इसके लिए आप पास के किसी भी डाकघर में जाकर फॉर्म भरकर अकाउंट खोल सकते हैं. इसके अलावा फॉर्म आनलाइन भी डाउनलोड किया जा सकता है.
  • फॉर्म पर पूरा नाम, जन्मतिथि और नामांकित व्यक्ति का पता लिखा होना चाहिए.
  • फॉर्म में परचेज अमाउंट की मात्रा स्पष्ट रूप से लिखी गई होनी चाहिए.
  • KVP फॉर्म की राशि का भुगतान चेक या नकद के माध्यम से किया जा सकता है.
  • चेक के माध्यम से भुगतान कर रहे हैं, तो कृपया फॉर्म पर चेक नंबर की जानकारी लिखें.
  • फॉर्म में स्पष्ट करें KVP एकल या ज्वॉइंट ‘ए‘ या ज्वॉइंट ‘बी‘ सदस्यता, किस आधार पर खरीदा जा रहा है.
  • यदि इसे ज्वॉइंटरूप से खरीदा जाता है, तो दोनों लाभार्थियों के नाम लिखें.
  • अगर लाभार्थी नाबालिग है, तो उसकी जन्म तिथि (DOB), माता–पिता का नाम, अभिभावक का नाम लिखें.
  • फॉर्म जमा करने पर लाभार्थी के नाम, मेच्योरिटी तिथि और मेच्योरिटी राशि के साथ किसान विकास प्रमाणपत्र प्रदान किया जाएगा.