पहले फेज में 51 लाख लोगो को ही वैक्सीन लगायी जाएगी। दिल्ली के CM अरविन्द केजरीवाल ने बताया है की दिल्ली में केवल 74 लाख डोज स्टोर करने की क्षमता है। अभी स्टोरेज को लेकर व्यवस्ता बनाई जा रही है। आने वाले 5 दिन में 1.15 करोड़ से ज्यादा की वैक्सीन स्टोर करने की क्षमता होगी। वैक्सीन को लेकर जो भी जानकारी है सब SMS के ज़रिये लोगो तक पहुचायी जाएगी।

मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कहा की ‘दिल्ली में प्राथमिकता श्रेणी में 51 लाख लोग हैं, जिनमें तीन लाख स्वास्थ्य कर्मी, अग्रिम मोर्चे पर काम कर रहे छह लाख कर्मी, 50 साल से अधिक आयु के लोग एवं किसी अन्य बीमारी से ग्रसित 50 साल से कम आयु के 42 लाख लोग हैं।’ उन्होंने यह भी बताय की हर व्यक्ति को 2 खुराक दी जाएगी और दिल्ली में टीकाकरण के पहले चरण में कुल 1.02 करोड़ खुराक की आवश्यकता होगी।

COVID-19 का टीका लगाने के लिए हर व्यक्ति का पंजीकरण किया जा रहा है। जब किसी व्यक्ति की वैक्सीन लगाने की बारी आएगी तोह उसको sms या किसी भी माध्यम से सूचित करदिया जायेगा। केजरीवाल ने कहा, ‘टीका सिर्फ उन्हीं लोगों को लगाया जाएगा जिनका पंजीकरण हो गया है।’

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में पिछले कुछ दिन में कोविड-19 संबंधी हालात में सुधार आया है, लेकिन सभी की नजरें इस बात पर टिकी हैं, कि टीका कब उपलब्ध होगा और कब लोग इस वायरस से छुटकारा पाएंगे. उन्होंने कहा, ‘हर किसी की नजर अब टीके पर है. दिल्ली सरकार ने सभी इंतजाम कर लिए हैं और हम केंद्र सरकार से टीका प्राप्त करने, उसका भंडारण करने तथा प्राथमिकता श्रेणी वाले लोगों का टीकाकरण करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं.’