बीजेपी के विधायक बसनगौड़ा यतनाल ने मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा पर गंभीर आरोप लगाए हैं.विधायक ने कहा है की येदियुरप्पा को राजनीति से संन्यास ले लेना चाहिए. जो भी ब्लैकमेल करता है या पैसा देता है, उसे मंत्री बना दिया जाता है.उन्होंने ये भी कहा की पैसा है तो मंत्री आप ही है नहीं तो कुछ नहीं.

1 इसको लेकर बीजेपी के कुछ विधायकों ने की खुली बगावत.
2 बीजेपी विधायकों ने सीएम बीएस येदियुरप्पा पर लगाए गंभीर आरोप.
3 बीजेपी विधायक ने कहा की जो भी ब्लैकमेल करता है या पैसा देता है, उसे मंत्री बना दिया जाता.

कर्नाटक में कैबिनेट विस्तार को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) में बवाल हो गया. बीजेपी के कुछ विधायकों ने खुली बगावत कर दी है.इसके बाद पार्टी के विधायक बसनगौड़ा यतनाल ने मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि येदियुरप्पा को राजनीति से संन्यास ले लेना चाहिए. जो भी ब्लैकमेल करता है या पैसा देता है, उसे मंत्री बना दिया जाता है. इसके लिए कोटा है. बसनगौड़ा यतनाल ने कहा कि एक सीडी कोटा है और एक सीडी प्लस पैसा कोटा है. कहने का मतलब है की आपके पास राजनीती में नेता बनना है तो आपके पास पैसा होना चाहिए नहीं तो ब्लैकमेल का कोई उपाए होना चाहिए.

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा लंबे समय से मंत्रिमंडल का विस्तार करना चाह रहे थे. आज 7 नए मंत्रियों को शपथ दिलाई जाएगी. बीएस येदियुरप्पा ने पार्टी हाईकमान को मंत्रियों की लिस्ट सौंपी थी. हाईकमान ने कई दिनों तक माथापच्ची करने के बाद मंत्रियों के नाम पर मुहर लगाई. हालांकि अब मंत्रियों के नाम को लेकर बवाल शुरू हो गया है. कर्नाटक बीजेपी के कई नेता मंत्रियों के नाम से नाराज हैं.

वही के सपथ लेने वाले कर्नाटक कैबिनेट में मुख्यमंत्री समेत 27 मंत्री हैं. मंत्रिमंडल में 7 की जगह खाली है. ऐसे में जो मंत्री बनेंगे उनमें मुर्गेश निरानी उमेश कट्टी, अंगारा, योगेश्वर, अरविंद लिंबावली, एमटीबी नागराज, शंकर आर का नाम शामिल है. खबर है कि आबकारी मंत्री एच नागेश को मंत्रिमंडल से ड्रॉप किया जा सकता है. आज शाम नए मंत्री शपथ लेंगे.