लंच और ब्रेकफास्ट की तरह ही डिनर एक जरूरी मील है. रात का डिनर हमेशा हल्‍का और पाष्‍टिक होना चाहिए. फैट घटाने वाले लोग इसे और ट्विस्ट दे सकते हैं, लेकिन डिनर को स्किप करना आपको बीमार बना सकता है.

क्या आपने सुना है, “एक राजा की तरह नाश्ता खाओ, एक राजकुमार की तरह दोपहर का भोजन और एक कंगाल की तरह रात का खाना”? लेकिन आजकल फिटनेस क्रेज और वजन घटाने के प्रति लोगों का रुझान काफी ज्यादा है और इसके लिए कुछ भी कर गुजरने को तैयार हैं. कई लोग आजकल एक्स्ट्रा किलो बहाने के लिए रात का खाना स्किप कर रहे हैं. क्या डिनर न करने से वजन घटाया जा सकता है? कई लोगों को यह भ्रम है कि अगर रात का खाना छोड़ दिया जाए, तो वह जल्‍दी वजन कम कर लेंगे, जो कि पूरी तरह से गलत है. जी हां! आपने सही पढ़ा. यह ऐसा दौर है जब लोग तेजी से वजन घटाने के कारगर तरीके तलाश रहे हैं, लेकिन इसके चक्कर में कुछ ऐसे अनहेल्दी तरीकों को अपना सहरा बना रहे हैं जो फायदे से ज्यादा नुकसान कर सकते हैं.

कई लोग वजन घटाने के लिए जमकर डायटिंग करते हैं और खूब पसीना बहाते हैं. लंच और ब्रेकफास्ट की तरह ही डिनर एक जरूरी मील है. रात का डिनर हमेशा हल्‍का और पाष्‍टिक होना चाहिए. फैट घटाने वाले लोग इसे और ट्विस्ट दे सकते हैं, लेकिन डिनर को स्किप करना आपको बीमार बना सकता है.

वजन घटाने के लिए रात का खाना छोड़ना सही है?

रात का भोजन हमारे नाश्ते या दोपहर के भोजन की तुलना में छोटा होना चाहिए. केवल इसलिए कि दिन ढलने के साथ ही हमारी गतिविधि में कमी आती है, लेकिन रात का खाना भी एक महत्वपूर्ण भोजन है, जिसे कभी नहीं छोड़ना चाहिए. इस भोजन को छोड़ देने से आपके दिन के अंतिम भोजन और अगले दिन के पहले भोजन के बीच बहुत बड़ा अंतर होगा. यह सबसे अधिक मूल दुष्प्रभावों में से कुछ का नाम लेने के लिए भयावह भूख, गंभीर अम्लता, मतली, ब्लैकआउट्स और परेशान नींद का कारण बन सकता है