‘द वाइट टाइगर’ में बलराम हलवाई के रोल से लाइम लाइट बटोरने वाले एक्टर आदर्श गौरव की तुलना फैंस और मीडिया ने इरफान से की, तो उन्होंने कहा कि मेरा और इरफान का कोई कम्पेरिजन नहीं हो सकता है. इरफान ने हॉलीवुड में काम करके जो जगह बनाई है उसे कोई रिप्लेस्ड नहीं कर सकता है.

बता दें कि इरफान ने मीरा नायर की ‘द नेमसेक’ में अपने दमदार परफॉमेंस से दुनिया में पहचान बनाई थी, जो झाप्पा लाहिड़ी के उपन्यास पर आधारित थी. वहीं आदर्श ने भी ‘द व्हाइट टाइगर’ से ग्लोबली फेम हासिल की है, ये फिल्म भी अरविंद अडिगा के उपन्यास पर आधारित है, जिसे मैन बुकर पुरस्कार भी मिला है.

आदर्श ने कहा कि इरफान सर के साथ मेरी तुलना होना मेरे लिए बहुत बड़ी बात है, लेकिन उन्हें मैं या कोई और भी कभी रिप्लेस नहीं कर सकता है. ‘द व्हाइट टाइगर’ को 93 वें एकेडमी अवार्डस में सर्वश्रेष्ठ एडाप्टेड स्क्रीनप्ले श्रेणी में नॉमिनेट किया गया था, लेकिन ये अवॉर्ड ‘द फादर’ ने जीता.

आपको बता दें कि अमेरिका के लॉस एंजिल्स में आयोजित 93वें एकेडमी अवॉर्ड समारोह में जाने-माने दिवगंत अभिनेता इरफान खान को याद किया गया. इसी के साथ एक भारतीय के नाते पहला ऑस्कर पुरस्कार पानेवाली कॉस्ट्यूम डिजाइनर भानु अथैया को भी याद किया गया.