26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली के के दौरान लाल किले पर हुई हिंसा मामले में एक और आरोपी इकबाल सिंह को दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने गिरफ्तार कर लिया है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इकबाल सिंह को पंजाब के होशियारपुर से गिरफ्तार किया है. इकबाल सिंह पर 50 हज़ार रुपये का इनाम था. इकबाल सिंह (Iqbal Singh) पर आरोप है कि 26 जनवरी को लाल किले में मौजूद था और लोगों को लाल किले (Red Fort) का गेट तोड़ने और झंडा फहराने के लिए उकसा रहा था. इकबाल सिंह लुधियाना का रहने वाला है और हिंसा के वक्त फेसबुक लाइव कर रहा था.बता दे, हिंसा के दूसरे आरोपी अभिनेता दीप सिद्धू को दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार किया था.

इसके बाद दिल्ली पुलिस ने दीप सिद्धू को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे सात दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया. दीप को क्राइम ब्रांच ने मेट्रोपालिटन मजिस्ट्रेट प्रज्ञा गुप्ता की कोर्ट में पेश किया था. पुलिस ने 10 दिनों की रिमांड मांगते हुए कहा था कि हमें दीप सिद्धू की रिमांड चाहिए क्‍योंकि उससे उससे पूछताछ करनी है. उसके खिलाफ वीडियोग्राफी सबूत हैं. उसने लोगों को भडकाया जिसके चलते लोगों ने सार्वजनिक सम्पति को नुकसान पहुंचाया. पुलिस ने यह भी कहा कि दीप के सोशल मीडिया की भी पड़ताल करनी है. उसको पंजाब हरियाणा लेकर जाना है.

बता दें, गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर रैली (Farmer Tractor Rally) के दौरान कुछ लोगों ने लाल किले में घुसकर तोड़फोड़ की थी. इसके साथ ही पुलिस के साथ झड़प भी हुई थी. काफी संख्या में ट्रैक्टर पर सवार कुछ लोग लाल किले में घुस गए थे. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के सूत्रों के मुताबिक दिल्ली के लाल किले (Red Fort) के लाहौरी गेट में भीड़ को उकसाकर लाल किले पर झंडा फहराने के लिए उकसाने वाले शख्स पर खुलासा हुआ गया है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इकबाल सिंह पंजाब के लुधियाना का रहने वाला है जो उस दौरान लाल किले से फेसबुक लाइव भी कर रहा था, लोगों से कह रहा था, ‘चढ़ जाओ बब्बर शेरों.’ बताया जा रहा है कि लाल किले का भीतरी दरवाजा खुलवाने के लिए इसने ही भीड़ को उकसाया है.