जीत के मुहाने पर खड़ी कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) की टीम को इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) मुकाबले में 10 रनों से हराने के बाद मुंबई इंडियंस (MI) के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि यह बहुत ही शानदार वापसी रही.

जीत के मुहाने पर खड़ी कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) की टीम को इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) मुकाबले में 10 रनों से हराने के बाद मुंबई इंडियंस (MI) के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि यह बहुत ही शानदार वापसी रही.

मुंबई इंडियंस की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए 152 रनों पर ऑल आउट हो गई थी. लक्ष्य का पीछा करते हुए केकेआर ने 15 ओवरों में 4 विकेट पर 122 रन बना लिये थे. केकेआर को आखिरी 5 ओवरों में जीत के लिए सिर्फ 31 रनों की जरूरत थी, लेकिन मुंबई के गेंदबाजों उन्हें महज 20 रन बनाने दिए.

रोहित ने मैच के बाद कहा, ‘बल्लेबाजी के समय वे (केकेआर) जैसी स्थिति में थे उसके मुताबिक यह शानदर वापसी है. जो भी गेंदबाजी के लिए आया, वह टीम के लिए योगदान देना चाहता था.’

उन्होंने कहा, ‘इस मैच से हमें काफी आत्मविश्वास मिलेगा. कई सकारात्मक चीजें रहीं. केकेआर ने शुरू के 6 ओवरों में अच्छी बल्लेबाजी की, लेकिन पावरप्ले के बाद राहुल चाहर ने अहम विकेट चटकाकर हमारी वापसी कराई, क्रुणाल ने भी बाद भी बेहतरीन गेंदबाजी की.’

उन्होंने जीत का श्रेय गेंदबाजों को देते हुए कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो मैं सभी गेंदबाजों की तारीफ कर सकता हूं. टीम के लिए यह अच्छा है.’

उन्होंने मुश्किल पिच पर शानदार बल्लेबाजी के लिए सूर्यकुमार यादव की तारीफ करते हुए कहा कि टीम को आखिरी ओवरों में रन बनाने का तरीका खोजना होगा.

रोहित ने कहा, ‘यह लगातार दूसरी बार है, जब हम आखिरी ओवरों में रन नहीं बना सके. हमें 15-20 रन और बनाना चाहिए थे. हमें इससे निपटने का तरीका ढूंढना होगा. सूर्यकुमार ने उस लय का जारी रखा है, जो भारतीय टीम के साथ दिखाया था. वह बहुत बेखौफ होकर खेलते हैं. उनके बड़े शॉट से यह नहीं लगता कि वह कोई जोखिम उठा रहे हैं.’

मैन ऑफ द मैच राहुल चाहर ने कहा कि उन्हें पता था कि इस पिच पर स्पिनरों को मदद मिलेगी और वह शुभमन गिल को आउट करने में सफल रहेंगे.

मैच में 27 रन देकर चार विकेट लेने वाले इस गेंदबाज ने कहा, ‘केकेआर ने अच्छी शुरुआती की थी, लेकिन मुझे पता था कि पिच से स्पिनरों को मदद मिलेगी. मैं यहां दो-तीन सत्रों में खेल चुका हूं, इसलिए गिल को आउट करने का भरोसा था. मैं उन्हें अंडर-19 क्रिकेट के दिनों से जानता हूं. मुझे पता था कि क्या करना है.’

केकेआर के कप्तान ने इस हार को निराशाजनक करार दिया. उन्होंने कहा, ‘हां यह निराशाजनक है. मैच पहली पारी के बाद दूसरी पारी में लक्ष्य का पीछा करते समय ज्यादातर समय तक हमारी पकड़ में था. हमने कुछ गलतियां कीं, लेकिन उसे ठीक करने की कोशिश करेंगे. हम आखिरी 10 ओवर में अच्छा नहीं खेले.’

उन्होंने कहा, ‘मुंबई की टीम काफी समय से ऐसे (आखिरी ओवरों में बेहतर गेंदबाजी) खेल रही है. यह ऐसा है जिस पर हमें ध्यान देना होगा.’