इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 14वें सीजन की शुरुआत हार से करने वाली मुंबई इंडियंस ने टूर्नामेंट में अपने दूसरे मैच में जीत हासिल की. उसने चेन्नई में मंगलवार को खेले गए मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स को 10 रनों से हरा दिया.

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 14वें सीजन की शुरुआत हार से करने वाली मुंबई इंडियंस (MI) ने टूर्नामेंट में अपने दूसरे मैच में जीत हासिल की. उसने चेन्नई में मंगलवार को खेले गए मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) को 10 रनों से हरा दिया. मुंबई इंडियंस ने इस प्रदर्शन के साथ ये भी बता दिया कि आखिर क्यों वह आईपीएल की सबसे सफल टीम है. उसने 152 रनों का बचाव शानदार ढंग से किया.

मुंबई इंडियंस जब बल्लेबाजी कर रही थी तो 15 ओवरों तक अच्छी स्थिति में थी. कप्तान रोहित शर्मा और हार्दिक पंड्या क्रीज पर थे. इस समय उसका स्कोर 3 विकेट के नुकसान पर 115 रन था. लेकिन 16वें ओवर में मुंबई की गाड़ी पटरी से उतर गई. इस ओवर में रोहित शर्मा आउट हुए. यहां से मैच में मुंबई की स्थिति कमजोर होनी शुरू हुई.

दरअसल, 16वें ओवर की दूसरी गेंद पर केकेआर के तेज गेंदबाज पैट कमिंस ने रोहित शर्मा को आउट किया. इसके बाद तो विकेट गिरते ही चले गए. इसके बाद से सिर्फ आंद्रे रसेल का शो चला. उन्होंने पारी का 18वां ओवर और 20वां ओवर किया. इन दो ओवर में रसेल ने 5 विकेट झटके. उन्होंने इस दौरान सिर्फ 15 रन दिए. 15 ओवर में 3 विकेट पर 115 रन बनाने वाली मुंबई 20 ओवर में 152 रनों पर सिमट गई. उसने आखिरी 5 ओवर में 37 रन बनाए और 7 विकेट खोए. मुंबई की पारी के आखिरी 5 ओवरों में कोलकाता पूरी तरह से हावी रही.

15 ओवर तक कोलकाता के कंट्रोल में था मैच 

कोलकाता के गेंदबाजों के अच्छे प्रदर्शन के बाद अब बारी थी उसके बल्लेबाजों की.153 रनों का पीछा करते हुए शुभमन गिल और नीतीश राणा ने केकेआर को शानदार शुरुआत दिलाई. नीतीश राणा ने ट्रेंट बोल्ट की पारी की पहली ही गेंद पर चौका लगाकर खाता खोला. उन्होंने बोल्ट के अगले ओवर में की पहली गेंद पर छक्का और फिर चौका जड़ा.

राणा ने आठवें ओवर में पोलार्ड, जबकि शुभमन ने नौवें ओवर में राहुल चाहर की गेंदों पर चौका और छक्का लगाया. चाहर ने हालांकि इसी ओवर में शुभमन को आउट कर पहले विकेट के लिए 72 रनों की साझेदारी को तोड़ा. चाहर ने इसके बाद विकेटकीपर क्विंटन डिकॉक के हाथों राहुल त्रिपाठी (5) को कैच कराया. उन्होंने मोर्गन (7) को आउट कर तीसरी सफलता हासिल की. मोर्गन जब आउट हुए तब स्कोर 12.5 ओवरों में 104-3 था.

15वें ओवर में कोलकाता को एक और झटका लगा. सेट बल्लेबाज नीतीश राणा भी आउट हो गए. उन्हें राहुल चाहर ने स्टंप्स कराकर मुंबई की उम्मीदों को जीवंत कर दिया. राणा ने 57 रनों की पारी में 2 छक्के और 6 चौके लगाए. राणा जब आउट हुए, तब कोलकाता का स्कोर 15 ओवर में 4 विकेट पर 122 रन था.

आखिरी पांच ओवरों में हाथ से फिसला मैच

केकेआर को आखिरी पांच ओवरों में जीत के लिए 31 रन चाहिए थे और छह विकेट बचे हुए थे, लेकिन मुंबई के गेंदबाजों ने उनके जबड़े से जीत को छीन लिया.

आखिरी 2 ओवरों में उसे 19 रनों की जरूरत थी.  19वां ओवर करने आए बुमराह ने सटीक बोलिंग की और महज 4 रन ही दिए. इस तरह आखिरी ओवर में केकेआर को 15 रनों की जरूरत थी. ट्रेंट बोल्ट 20वां ओवर करने आए. पहली गेंद पर रसेल ने सिंगल लिया. दूसरी गेंद पर दिनेश कार्तिक एक रन ले सके. तीसरी गेंद पर बोल्ट ने रसेल को कॉट एंड बोल्ड कर दिया. फिर चौथी गेंद पर उन्होंने कमिंस को बोल्ड किया. 5वीं गेंद पर हरभजन ने दो रन बनाए. आखिरी गेंद डॉट रही और इस तरह मुंबई ने कोलकाता को 142 रनों पर रोक दिया और 10 रनों से जीत हासिल कर ली.