ऋषभ पंत की दिल्ली कैपिटल्स ने शनिवार को इंडियन प्रीमियर लीग के अपने पहले मैच में महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स को सात विकेट से हराकर जीत के साथ आगाज किया.

ऋषभ पंत की दिल्ली कैपिटल्स ने शनिवार को इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के अपने पहले मैच में महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स को 7 विकेट से हराकर जीत के साथ आगाज किया. आईपीएल में वापसी कर रहे सुरेश रैना के 36 गेंद में 54 रन और आखिरी ओवरों में सैम कुरेन की आक्रामक बल्लेबाजी की मदद से चेन्नई सुपर किंग्स ने 7 विकेट पर 188 रन बनाए. जवाब में दिल्ली ने 3 विकेट खोकर आठ गेंद बाकी रहते लक्ष्य हासिल कर लिया.

उस्ताद और शागिर्द के मुकाबले में बाजी शागिर्द ने मारी. कप्तान महेंद्र सिंह धोनी से चेन्नई के फैन्स को बड़ी पारी की उम्मीद थी. लेकिन धोनी बिना खाता खोले आवेश खान की गेंद पर आउट हो गए. गेंद धोनी के बल्ले का अंदरूनी किनारा लेकर स्टंप्स से टकरा गई.

2015 के बाद आईपीएल में यह पहला मौका है, जब धोनी बिना खाता खोले आउट हुए. पिछली बार मुंबई इंडियंस के खिलाफ मुकाबले में धोनी शून्य पर आउट हो गए थे. वैसे धोनी आईपीएल में कुल चौथी और दिल्ली के खिलाफ दूसरी बार आईपीएल में खाता खोलने में नाकाम रहे.

IPL में धोनी के ‘शून्य’

0 (1) विरुद्ध रॉयल्स, चेन्नई 2010
0 (2) विरुद्ध डेयरडेविल्स, चेन्नई 2010
0 (1) विरुद्ध मुंबई, मुंबई 2015
0 (2) विरुद्ध कैपिटल्स, मुंबई 2021

वानखेड़े स्टेडियम में दिल्ली कैपिटल्स ने टॉस जीतकर चेन्नई सुपर किंग्स को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया. चेन्नई की शुरुआत काफी खराब रही. चेन्नई ने सात रनों के योग पर फाफ डु प्लेसिस (0) रन और ऋतुराज गायकवाड़ (5 रन) के विकेट गंवा दिए. इसके बाद सुरेश रैना और मोईन अली ने 53 रनों की साझेदारी कर टीम को संभाल लिया. मोईन अली ने 2 छक्के और 4 चौके की मदद से 36 रनों की पारी खेली.

सुरेश रैना ने अंबति रायडू (23 रन) के साथ चौथे विकेट के लिए भी 63 रन जोड़े. रैना ने 36 गेंदों की पारी में तीन चौके और चार छक्के लगाए. आखिरी ओवरों में रवींद्र जडेजा (26 रन) और सैम कुरेन (34 रन, 15 गेंदों में) ने सातवें विकेट के लिए 51 रनों की नाबाद साझेदारी कर टीम को सम्मानजनक  स्कोर खड़ा करने में मदद की. दिल्ली के लिए क्रिस वोक्स और आवेश खान ने 2-2 विकेट निकाले.

पिछले सत्र में 618 रन बनाकर सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में दूसरे स्थान पर रहे शिखर धवन (85) और विजय हजारे ट्रॉफी में 827 रन बनाकर फॉर्म में लौटे पृथ्वी शॉ (72) ने दिल्ली को शानदार शुरुआत दी. दोनों ने पहले विकेट के लिए 138 रन जोड़े और धोनी का कोई गेंदबाज उनके सामने कामयाब नहीं हो सका.