पाकिस्तान के पूर्व कप्तान वसीम अकरम ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) और पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में बड़ा अंतर बताया। उन्होंने कहा कि आईपीएल दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट टूर्नामेंट है। इसकी कमाई से भारतीय क्रिकेट में बदलाव आया। उन्होंने कहा कि आईपीएल का बजट पीएसएल के दोगुने से ज्यादा होता है।

आईपीएल इस बार कोरोना के कारण यूएई में 19 सितंबर से 8 नवंबर तक होगा। पहले यह टूर्नामेंट 29 मार्च से होना था। आईपीएल को लेकर सभी तैयारियां हो चुकी हैं। सभी टीमें अगस्त के दूसरे हफ्ते से यूएई पहुंचना शुरू कर देंगी। फिलहाल, भारत सरकार की मंजूरी मिलना बाकी है।

बीसीसीआई ने आईपीएल से काफी पैसा कमाया

अकरम ने अपने यूट्यूब चैनल पर तनवीर अहमद से कहा, ‘‘दोनों में (आईपीएल और पीएसएल) में अंतर है। पिछले 5-6 साल में यह अंतर बड़ा अंतर आया है। आईपीएल के कारण ही भारत में अच्छे खिलाड़ी आना शुरू हो गए हैं। आईपीएल दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट टूर्नामेंट है। लीग से उन्होंने काफी पैसा कमाया है।’’

आईपीएल की कमाई फर्स्ट क्लास क्रिकेट में लगती है
बजट को लेकर अकरम ने कहा, ‘‘आईपीएल में खिलाड़ियों को खरीदने के लिए टीमों के पास 60-80 करोड़ (भारतीय रुपए) का बजट होता है। यह हमारे (पाकिस्तान) रुपयों से दोगुना होगा। इस कमाई को बीसीसीआई अपने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में लगाता है, जिससे बड़ा बदलाव आया है।’’

भारतीय बल्लेबाज कॉन्फिडेंस में खेलते हैं
अकरम ने कहा, ‘‘आईपीएल में ज्यादातर खिलाड़ी पर्सनल कोच रखते हैं। जैसे प्रवीण आमरे को ही देख लीजिए। आईपीएल में ऐसे पूर्व खिलाड़ियों की सेवा ली जाती है, जो आगे चलकर अच्छे कोच साबित होते हैं। उनके बल्लेबाजों को ही देख लो। वे काफी कॉन्फिडेंस के साथ खेलते हैं। उनका पूरा सिस्टम ही अलग है। लीग के कारण वहां क्वालिटी प्लेयर मिलने लगे हैं।’’

  1. कोलकाता नाइट राइडर्स के बॉलिंग कोच रह चुके अकरम
    वसीम अकरम को 2010 में आईपीएल की फ्रेंचाइजी कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) ने बॉलिंग कोच नियुक्त किया था। वे पीएसएल में मुल्तान सुल्तान टीम डायरेक्टर और बॉलिंग कोच रह चुके हैं। फिलहाल, अकरम कराची किंग्स के चेयरमैन और बॉलिंग कोच हैं।