लगातार कंप्यूटर स्क्रीन पर काम करने के दौरान आंखों में ड्राइनेस की समस्या होने लगी है। आंखों को भी विटमिन और मिनरल की आवश्यकता होती है जिससे आंखें हेल्दी रहें और विजन भी सही रहे। जानेंगे कुछ ऐसे फूड्स के बारे में, जो आंखों की ड्राइनेस से कर सकते हैं बचाव ।

ओमेगा-3 फैटी एसिड

एक स्टडी के मुताबिक, ओमेगा-3 फैटी एसिड से युक्त फूड का सेवन करने से आंखों में ड्राइनेस और जलन को कम किया जा सकता है। विशेष रूप से ओमेगा- 3 आपकी पलकों में या आपकी आंख की सतह पर सूजन को कम करता है और आंसू को अपना काम बेहतर तरीके से करने में मदद करता है। ओमेगा-3 वाली डाइट आंख में जिन ग्रंथियों की मदद करती है उसे मेइबोमियन ग्रंथियां कहा जाता है, जो आपके आंसू के ऑयली हिस्से को बनाते हैं। ओमेगा-3 युक्त चीज़ें हैं- टूना मछली, छोटी समुद्री मछली, सामन, अखरोट, पंपकिन सीड्स, अलसी, चिया सीड्स, वेजटेबल ऑयल, सोयाबीन और हरी-पत्तेदार सब्जि़यां खाएं।

पोटैशियम

पोटैशियम रिच फूड का सेवन करना चाहिए। जैसे केला, शकरकंद, आलू, फलियां, दही, सोयाबीन खाएं। इससे आंखों की ड्राईनेस को कुछ हद तक कम किया जा सकता है।

एंटीऑक्सीडेंट

एक अन्य स्टडी से पता चला है कि एंटीऑक्सीडेंट बॉडी से फ्री-रेडिकल्स से लडऩे में मदद करके ऑक्सीकरण की प्रक्रिया को धीमा कर सकते हैं। ल्यूटिन और जेक्सैंथिन भी दो एंटीऑक्सीडेंट हैं, जो आंखों की बीमारियों को सही करने में मदद करके आंख के मसल्स को हेल्दी रखने में मदद करते हैं। इसलिए ऐसे फूड का सेवन करें जो एंटीऑक्सीडेंट में हाई हों। एंटीऑक्सीडेंट फूड को पहचानना आसान होता है क्योंकि ये गहरे रंग के होते हैं, जैसे- बेरीज़, पत्तेदार साग, केल ब्रॉक्ली व पालक।