किसी भी चीज का ज्यादा सेवन करना शरीर के लिए हानिकारक होता है ये तो हम सब जानते हैं फिर चाहें वो सब्जियों ही क्यों ना हो. दरअसल सब्जियों में कई ऐसे पोषक तत्व जैसे प्रोटीन, विटामिन, कैल्शियम और आयरन प्रचुर मात्रा में पाए जाते है. इसलिए हमारे लिए हर दिन सब्जियों को अपने आहार में शामिल करना बेहद जरूरी होती है. वहीं इन पौष्टिक सब्जियों को कई तरह से बनाया जा सकता है. जो हमें पोषक तत्व प्रदान करता हैं, लेकिन कुछ सब्जियां शरीर को पोषण देने के अलावा हैरान करने वाले साइड इफेक्ट भी देती हैं. ऐसी 5 पांच सब्जियां हैं मशरूम, गाजर, चुकंदर और संतरा

मशरूम से होते हैं रैशेज

मशरूम विटामिन डी का एक अच्छा स्रोत है, लेकिन कुछ लोगों के शरीर में मशरूम खाने के बाद रैशेज निकल आते हैं. इसलिए मशरूम को आहार में शामिल करने से एलर्जी भी हो सकती है लेकिन ये समस्या तब होती है जब मशरूम को कच्चा खाया जाता है.

गाजर से बदल सकता है स्किन का रंग

गाजर तो हर किसी को पसंद होती है लेकिन इसको ज्यादा खाने से ये हमारी स्किन को नारंगी रंग का बना देती है. गाजर को ज्यादा खाने से स्किन बीटा कैरोटीन से भरपूर होने की वजह से पीली या नारंगी हो जाती है. वहीं सिर्फ गाजर ही नहीं बल्कि ज्यादा कद्दू की सब्जी और शकरकंद को खाने से स्किन का रंग बदल सकता है.

चुकंदर से बदलता है यूरिन का रंग

चुकंदर को ज्यादा मात्रा में खाने से यूरिन का रंग गुलाबी हो सकता है. गुलाबी रंग देख कर आप हैरान हो सकते हैं लेकिन घबराने वाली कोई बात नहीं है ये सिर्फ चुकंदर का साइड इफेक्ट होता है.

संतरे का रस के साइड इफेक्ट

बीटा कैरोटीन की तरह विटामिन सी का ज्यादा सेवन से भी हमारी यूरिन का रंग बदल सकता है. एक दिन में विटामिन सी की ज्यादा मात्रा यूरिन को चमकदार बना देती है. वहीं हमारे शरीर में पानी की कमी होने पर भी यूरिन का रंग बदल जाता है. इसलिए जब हम बहुत ज्यादा विटामिन सी ले रहे हों तो इसके साथ खूब पानी पीना चाहिए.

गोभी से होती है पाचन की समस्या

फूलगोभी और इस प्रजाति की और सब्जियां गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्या को पैदा कर सकती हैं जिससे हमें सूजन और गैस की दिक्कत हो सकती है. गोभी वैसे पौष्टिक होती है लेकिन पचाने में भी मुश्किल होती है. खास तौर पर अगर इसे कच्चा खाया जाए तो ये ज्यादा हानिकारक होती है. इसमें राफिनोज पाया जाता है जिसे हमारा शरीर पचा नहीं पाता है और हमारे पेट में दर्द होने लगता है.