राजधानी दिल्ली में बिना हाई सिक्युरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट और बगैर रंगीन स्टीकर के सड़कों पर दौड़ रहे 4 पहिया वाहनों को 11,000 रुपये का चालान देना पड़ा रहा है। यह नियम मंगलवार से ही दिल्ली में लागू हो गया है। अगर आपके चार पहिया वाहन में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट और रंगीन स्टीकर नहीं लगा है तो भारी जुर्माना भरना होगा। दोनों नियमों की अनदेखी करने पर परिवहन विभाग ने 5,500-5,500 रुपये का चालान कर रहा है। इस बीच अगर आपने आवेदन किया है और आपके पास पेमेंट स्लिप है तो जुर्माने से बच जाएंगे।

26 लाख से अधिक वाहन हैं पंजीकृत
दिल्ली में 26 लाख से अधिक वाहनों पर एचएसआरपी और रंगीन स्टीकर लगाए जाने हैं, लेकिन अब तक एक लाख लोगों ने ही आवेदन किया है। इनमें 50 हजार वाहनों पर ही एचएसआरपी लगाई जा सकी है।

होम डिलीवरी की भी सुविधा
एचएसआरपी लगवाने के लिए 658 केंद्र बनाए गए हैं। 517 कॉलोनियों में भी एचएसआरपी लगवाने की सुविधा है। होम डिलीवरी के लिए वेबसाइट पर आवेदन कर सकते हैं। प्रतिदिन 1,500 एचएसआरपी व रंगीन स्टीकर की होम डिलीवरी की जा रही है। अब तक होम डिलीवरी के तहत 10 हजार एचएसआरपी लगाई जा चुकी हैं। होम डिलीवरी में कार के लिए 250 रुपये व दोपहिया वाहन के लिए 125 रुपये का अतिरिक्त देना होता है। डीलरों के यहां भी प्रतिदिन की क्षमता बढ़ाकर 3,000 कर दी गई है।

इसलिए जरूरी है एचएसआरपी
एचएसआरपी एल्युमीनियम से बनी होती है। इसे खोला नहीं जा सकता है और न ही आसानी से तोड़ा जा सकता है। रात में वाहन के नंबर दूर से दिख जाते हैं। इससे वाहनों से संबंधित जानकारी मिल जाती है।

एचएसआरपी और रंगीन स्टीकर अनिवार्य, अनदेखी पर 5,500-5,500 रुपये भरने होंगे, अभी सिर्फ चारपहिया वाहनों पर सख्ती

ऐसे करें आवेदन
एचएसआरपी और रंगीन स्टीकर की बुकिंग के लिए https://www.bookmyhsrp.com/Index.aspx पर आवेदन किया जा सकता है। इस दौरान सिर्फ वाहन संबंधी जानकारी देनी होगी। इसके बाद एसएमएस के जरिये अपडेट मिलता रहेगा। आवेदक को एप्वाइंटमेंट की तारीख से कम से कम दो दिन पहले सूचित कर दिया जाएगा।

यह है शुल्क
कार के लिए एचएसआरपी का शुल्क 600-1100 रुपये और दोपहिया वाहनों के लिए 300-400 रुपये है। वहीं, रंगीन स्टीकर के लिए 100 रुपये देने होंगे।